नक्सलियों के खिलाफ जंग में हमारी जीत तय : अमित शाह

Amit Shah said that our victory in the war against Naxalites is decided
Amit Shah said that our victory in the war against Naxalites is decided

जगदलपुर। गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सलियों के खिलाफ अभियान को और तेज करने का संकल्प दोहराते हुए आज कहा कि इस जंग में हमारी जीत तय हैं।

शाह ने वाम उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र की स्थिति पर आज यहां एक लगभग दो घंटे की लम्बी उच्च स्तरीय बैठक के बाद पत्रकारों से कहा कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई को और तेज किया जायेंगा। उऩ्होने कहा कि जवानों की शहादत व्यर्थ नही जायेंगी, और इस लडाई को निर्णायक मोड़ पर पहुंचाया जायेंगा। शाह ने कहा कि बीजापुर जैसी कायरतापूर्ण घटना से लड़ाई नही रूकेंगी बल्कि और दृढ़ता से आगे बढ़ेगी।

उन्होने कहा कि केन्द्रीय एवं राज्य के सुरक्षा बलों ने नक्सलियों के खिलाफ इस इलाके में जोरदार अभियान चलाया है, और केन्द्र एवं राज्य सरकार ने तमाम विकास कार्य इस इलाके में किए हैं जिससे नक्सलियों ने बौखलाहट में इस तरह की कायरतापूर्ण कार्रवाई की है। उऩ्होने कहा कि इस लड़ाई को अंजाम तक पहुंचाया जायेगा और इस जंग में हमारी जीत तय है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इस मौके पर कहा कि नक्सलियों के विरूद्ध सुरक्षा बलों के आपरेशन जारी रहेंगे तथा इस अभियान को अंजाम तक पहुंचाएंगे। नक्सलियों के प्रभाव क्षेत्र में कैम्पों की स्थापना का कार्य तेजी से किया जाएगा। क्षेत्र में विकास के कार्यों में भी तेजी लाई जाएगी। उऩ्होने कहा कि हमारे जवानों ने बहुत साहस से नक्सलियों का सामना किया है, जिससे नक्सलियों की भारी क्षति हुई है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में नये कैम्प स्थापित किए जा रहे हैं, जिससे नक्सलियों की बौखलाहट दिख रही है। नक्सली सीमित दायरे में सिमट गए हैं।

उऩ्होने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है कि हम नक्सलियों की मांद में घुस चुके हैं। उन्होंने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार क्षेत्र में विकास के कार्यों में तेजी लाते हुए मिलकर कार्य कर रहे हैं। सड़कों के निर्माण के साथ कनेक्टीविटी देने व योजनाओं का लाभ अंदरूनी क्षेत्रों में पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बैठक में इस संबंध में सार्थक बातचीत हुई है और उन्हें उम्मीद है कि केन्द्र सरकार हमारी मांगों पर उचित कार्यवाही करेगी।

इससे पूर्व हुई उच्च स्तरीय बैठक में गृह मंत्रालय के वरिष्ठ सुरक्षा सलाहकार के.विजय कुमार, केन्द्रीय गृह सचिव ए.के. भल्ला,छत्तीसगढ़ के पुलिस महानिदेशक डी.एम.अवस्थी, सीआरपीएफ के डायरेक्टर जनरल कुलदीप सिंह, डायरेक्टर आईबी अरविंद कुमार, छत्तीसगढ़ के विशेष पुलिस महानिदेशक नक्सल ऑपरेशन अशोक जुनेजा, उपस्थित थे।

पहली बार इस बैठक में प्रभावित क्षेत्रों के जनप्रतिनिधि भी शामिल थे। बैठक में पहली बार सत्ता एवं प्रतिपक्ष के जनप्रतिनिधियों ने नक्सलवाद के खात्मे पर पूरी एकजुटता दिखाई और उन्होने इसके खात्मे की चुनौतियों एवं उससे निपटने के सुझाव भी दिए।