आर्थिक रूप से सशक्त महिला ही करेगी सशक्त समाज का निर्माण : भदेल

अजमेर। महिला अधिकारिता विभाग द्वारा आयोजित संभाग स्तरीय अमृता हाट का समापन समारोह गुरूवार को वैशाली नगर स्थित अरबन हाट में हुआ। महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने अपने संबोधन में कहा कि आर्थिक रूप से सशक्त महिला ही सशक्त समाज का निर्माण कर सकती है।

महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए उनका आर्थिक रूप से सुदृढ़ होना आवश्यक है। सशक्त महिला से सशक्त परिवार तथा उससे सशक्त समाज का निर्माण होता है। देश को आगे बढ़ाने में महिलाओं की विशेष भूमिका रहती है।

अमृता हाट के माध्यम से महिलाओं का सशक्तीकरण राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा है। इसमें राज्य सरकार के समस्त विभागों ने अपना योगदान प्रदान किया है। राज्य सरकार द्वारा जिला स्तर तक स्वयं सहायता समूह के उत्पाद पहुंचाने की योजना है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार स्वयं सहायता समूहों की गतिविधियों के माध्यम से उत्पादित सामग्री को बाजार उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है। इस प्रकार के हाट बाजार से स्वयं सहायता समूहों को भविष्य के ग्राहक मिलेंगे। इससे उत्पादित सामग्री उचित मूल्य पर बिक सकेगी।

राज्य सरकार इस बात के लिए प्रयासरत है कि राज्य के समस्त जिलों में अलग-अलग समय पर अमृता हाट का आयोजन किया जाए। इससे राज्य के समस्त सक्रिय स्वयं सहायता समूहों को अपने उत्पाद बेचने का अवसर मिलेगा।

ग्राहकों को भी राज्य के अलग-अलग क्षेत्रों की सामग्री खरीदने का मौका मिलेगा। साथ ही वर्ष पर्यन्त अमृता हाट लगने से महिलाओं को नियमित रोजगार उपलब्ध रहेगा। दुरस्थ ईलाकों में कार्यरत स्वयं सहायता समूह गुमनामी से निकलकर बाजार की मुख्य धारा में शामिल हो पाएंगे।

अमृता हाट में उच्च गुणवत्ता के सामान कम कीमत पर उपलब्ध होते है। उत्पादक से सीधे उपभोक्ता तक सामग्री पहुंचने से उसमें अतिरिक्त खर्चे कम हो जाते है। इसका लाभ ग्राहकों को मिलता है। जिलों में स्थानीय भामाशाहों एवं स्पोन्सर्स के सहयोग से विभिन्न प्रोत्साहन गतिविधियां भी चलाई जा रही है।

संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत ने कहा कि अमृता हाट से मातृ शक्ति मजबूत होगी। इससे समाज में मजबूती आएगी। स्वयं सहायता समूह के माध्यम से बिक्री होने से महिलाओं के सुखद भविष्य का निर्माण होगा। अमृता हाट में बिक्री बढ़ने से महिलाओं का आर्थिक सशक्तीकरण होगा। राज्य सरकार प्रत्येक जिले के स्वयं सहायता समूहों को बाजार उपलब्ध करवाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। सरकार इनमें भविष्य के उद्यमी का प्रतिरूप देख रही है।

जिलापरिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरूण गर्ग ने बताया कि प्रशासन एवं समस्त विभागों द्वारा समूहों को बेहतरीन व्यवस्थाएं उपलब्घ करवाई गई है। अमृता हाट से महिलाओं का सशक्तीकरण होगा। इस प्रयास से रोजगार में वृद्धि होगी। राज्य के विभिन्न क्षेत्रों में समान पृष्ठभूमि की महिलाओं के द्वारा उत्पादित सामग्री का बाजार विकसित होने से रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

इस अवसर पर कार्यक्रम निदेशक राजकुमारी हाड़ा, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक  सीबी नवल, बाल विकास परियोजना अधिकारी नितेश यादव, पार्षद संतोष मोर्या एवं सीमा गोस्वामी सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।

सुमन भोगावत को बम्पर पुरस्कार

समापन समारोह में अतिथियों द्वारा ड्रॉ निकाला गया। यह ड्रॉप्रतिदिन एक हजार से अधिक की खरीदारी करने पर दिए गए कूपन के आधार पर निकाला गया। प्रथम पुरस्कार के रूप में एन्ड्रायड मोबाइल फोन भगवान गंज की सुमन भोगावत के नाम रहा। द्वितीय पुरस्कार 50 ग्राम चांदी का सिक्का फ्रेंडस कॉलोनी की इंन्द्रा गारू को मिला। तृतीय पुरस्कार के रूप में आकर्षक गिफ्ट हैम्पर पंचशील कॉलोनी की प्रीतिका को मिला।

गुजराती स्वयं सहायता समूह ने की सर्वाधिक बिक्री

महिला अधिकारिता विभाग के सहायक निदेशक नगेन्द्र कुमार तोलम्बिया ने बताया कि समापन समारोह में सर्वाधिक बिक्री करने वाले गुजराती स्वयं सहायता समूह को सम्मानित किया गया। इस समूह ने लगभग एक लाख 25 हजार रूपए की बिक्री कर कीर्तिमान स्थापित किया। इस वर्ष लगभग 85 स्वयं सहायता समूहों ने 20 लाख से अधिक की बिक्री की।