अमृतसर: दरबार साहिब में प्लास्टिक लिफाफे पर प्रतिबंध

Amritsar Ban on plastic envelopes in Durbar Sahib
Amritsar Ban on plastic envelopes in Durbar Sahib

SABGURU NEWS | अमृतसर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने एक अप्रैल से श्री दरबार साहिब प्लास्टिक के लिफाफों के प्रयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है। इनके स्थान पर अब मक्का और आलू से बने हुए लिफाफों का प्रयोग होगा।

पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष काहन सिंह पन्नू ने शिरोमणी समिति के मुख्य सचिव डॉ रूप सिंह समेत अन्य अधिकारियों के साथ आज बैठक की जिसमें उन्होंने बताया कि पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा राज्य में प्रदूषण के ख़ात्मे के लिए लगातार यत्न किये जा रहे हैं और इसकी ताज़ा कोशिश पंजाब में प्लास्टिक के लिफ़ाफ़े ख़त्म करने की है।

उन्होंने कहा कि प्लास्टिक की जगह पर आलू और मक्का से तैयार किये गए घुलनशील लिफ़ाफ़े एक अच्छा विकल्प हैं। उन्हाेंने बताया कि लिफ़ाफाें को तैयार करने के लिए चार फर्मों के साथ बात की जा चुकी है और इसे अौर आगे बढ़ाया जायेगा।

शिरोमणि समिति के मुख्य सचिव डॉ रूप सिंह ने पंजाब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड द्वारा प्लास्टिक के लिफ़ाफों को ख़त्म करने के अभियान एसजीपीसी द्वारा पूरा साथ दिया जाएगा। उन्हाँने बताया कि सच्चखंड श्री हरिमन्दर साहब में हर वर्ष दो सौ क्विंटल लिफ़ाफों का प्रयोग होता है और इसके इलावा प्रसाद की पैकिंग के लिए भी 65 क्विंटल लिफ़ाफ़े इस्तेमाल किए जाते हैं।

उन्होंने कहा कि प्रदूषण एक बड़ी समस्या है और इसे कम करने के लिए शिरोमणि समिति सचेत है। इसी के अंतर्गत ही सच्चखंड श्री हरिमन्दर साहब के लिए अपने खर्च पर शिरोमणि समिति की तरफ से 66 के.वी. पावर हाऊस सब -स्टेशन मुकम्मल होने के नज़दीक है और इसके चालू होने से 24 घंटे निर्विघ्न बिजली मिलेगी। इससे जनरेटर के प्रयोग से हो रहे प्रदूषण भी निश्चित रूप से रुकेगा।