आंध्रप्रदेश : सेप्टिक टैंक में सफाई के लिए उतरे 7 मजदूरों की मौत

7 workers die after inhaling poisonous gas while cleaning septic tank in Chittoor

विजयवाड़ा। आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में एक निजी मत्स्य पालन केंद्र के बाड़े के सेप्टिक टैंक को साफ करने के दौरान सात सफाईकर्मियों की मौत हो गई। जिले के पलमानेरू ब्लॉक में मोरम गांव के वेंकटेश्वर मछली पालन केंद्र में यह घटना घटी।

सफाईकर्मी जिस सेप्टिक टैंक की सफाई कर रहे थे, उसमें कचरा डाला जाता है। पहले टैंक में मौजूद चार कर्मी बेहोश हो गए। उसके बाद उन्हें बचाने के प्रयास में टैंक में उतरे तीन और कर्मियों की हालत बिगड़ने लगी।

ग्रामीणों ने टैंक की छत हटाकर उन्हें बाहर निकाला। अस्पताल ले जाते समय रास्ते में चार की मौत हो गई और तीन ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि टैंक में जहरीली गैस बनने के कारण कर्मियों की मौत हुई है। जिला प्रशासन ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। कर्मियों के परिजनों का आरोप है कि टैंट में उतरने के लिए उन्हें सुरक्षा उपकरण नहीं दिए गए थे।

कंपनी ने प्रत्येक पीड़ित परिवार को 15 लाख रुपए अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है। राज्य सरकार ने भी प्रत्येक परिजन को 10 लाख रुपए देने की घोषणा की है।