आंध्र प्रदेश नाव डूबी: नौ सेना का गोताखोर दल राजमुंदरी पहुंचा

Andhra Pradesh motor launch capsize: Navy steps in, rescue operations in full swing

राजमुंदरी/नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश के देवीपटनम गांव में गोदावरी नदी में डूबे लोगों की तलाश के लिए विशाखापट्टनम स्थित नौसेना की पूर्वी कमान (ईएनसी) से गोताखोरों का दल मंगलवार देर रात राजमुंदरी पहुंचा।

सूत्रों के अनुसार नाव में कुल 40 लोग सवार थे और कुछ लोग तैरकर सुरक्षित बाहर निकल आए तथा कुछ को बचा लिया गया था लेकिन अभी भी 23 लोग लापता हैं।

नौ सेना के प्रवक्ता ने कहा कि नौ सेना की पूर्वी कमान के गोताखोरों को विझाग से राजमुंदरी नौ सेना के डॉर्नियर विमान से कल रात करीब 11 बजे ले जाया गया ताकि वे पोलावरम के समीप वोडापल्ली में लापता लोगों की तलाश में खोज अभियान चला सके।

प्रवक्ता ने कहा कि आज सुबह नौ सेना के तीन हेलीकॉप्टरों में अतिरिक्त गोताखोरों और एक डॉर्नियर विमान से तकनीकी एवं हवाई यातायात नियंत्रण दल के सदस्यों को भी पहली उड़ान से भेजा गया ताकि वे राहत बचाव अभियान को तेज करने के अलावा राजमुंदरी हवाई अड्डे पर हवाई यातायात सेवा को नियंत्रित कर सके।

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल(एनडीआरएफ) और राज्य आपदा मोचन बल(एसडीआरएफ) के सदस्य घटनास्थल पर तैनात हैं और राहत बचाव अभियान में जुटे हैं।

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश के पश्चिमी गोदावरी जिले में कल शाम एक नाव गोदावरी नदी में पलट गई थी। यह नाव कोंडामोडालु से देवीपट्टनम जा रही थी और पश्चिम गोदावरी की तरफ दौरान मंटूर -वेडापल्ली के बीच पलट गई।

नाव पर सवार जनजाति समुदाय के लोग देवीपट्टनम से रोजमर्रा की आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी करके नदी के निचले इलाकों में बसी अपनी बस्तियों में लाैट रहे थे। सूत्रों के अनुसार इस दौरान अचानक आई आंधी और भंवर बनने के कारण नाव का संतुलन बिगड़ गया और नाव पलट गई।