मतदाता सूची में महिला-पुरूष अनुपात बढाने जुटीं आंगनबाडी कार्यकर्ता

Anganwadi workers working to increase male and female ratio in voter list
Anganwadi workers working to increase male and female ratio in voter list

भिंड । मध्यप्रदेश के भिंड जिला कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी आशीष कुमार गुप्ता ने जिले में मतदाता सूची में महिलाओं की कम संख्या को देखते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग को महिला मतदाता बढाने की जिम्मेदारी दी है।

उनके सहयोगी के रूप में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग और राजस्व विभाग की टीम को भी लगाया गया है। इसके तहत आंगनबाडी कार्यकर्ता घर-घर जाकर महिला मतदाताओं से मतदाता सूची में नाम जोडने के लिए प्रपत्र-6 भरवा रहीं हैं और यह फाॅर्म बीएलओ के पास जमा कर रही हैं।

सूत्रों के मुताबिक ऐसी युवतियां को ढूंढा जा रहा है जो इसी साल 18 वर्ष की हुई हैं, लेकिन उनका वोटर कार्ड नहीं बना है। ऐसी नवविवाहिताओं से भी फॉर्म भरवाए जा रहे हैं जो इसी साल दूसरे प्रदेश, जिले व गांव से भिण्ड जिले में आई हैं। ऐसी महिलाओं को भी तलाशा जा रहा है जो लंबे समय से गांव, शहर में रह रही हैं, लेकिन उनका मतदाता सूची में नाम नहीं है। उन सभी से फॉर्म भरवाए जा रहे हैं।

मतदाता सूची में महिला-पुरुष मतदाताओं का अनुपात कम होने का पता चलते ही एक सप्ताह पहले निर्वाचन कार्यालय ने महिला एवं बाल विकास विभाग को 70 हजार नए मतदाता जोडने वाले फाॅर्म उपलब्ध कराए हैं। यह फॉर्म जिले की दो हजार 451 आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के बीच बांट दिया गया है। इनमें से 25 हजार 410 फाॅर्म महिला मतदाताओं से भरवाकर बीएलओ के पास जमा भी करा दिए हैं।

महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी आरएन बुधौलिया के मुताबिक उनका लक्ष्य 31 अगस्त तक कम से कम 40 हजार महिलाओं को मतदाता सूची में शामिल करने का है अौर इसके लिए पूरी टीम जुटी हुई है। उन्होंने बताया कि जिले में महिला-पुरुष मतदाताओं के अनुपात में काफी कमी आई है, जो चिंता का विषय है। आंगनबाडी कार्यकर्ताओं को 70 हजार फाॅर्म दिए हैं, जो कि घर-घर जाकर महिलाओं से यह फाॅर्म भरवा रही हैं।