आंगनवाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को शिक्षा के साथ संस्कारवान बनाये: अनिता भदेल

आंगनवाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को शिक्षा के साथ संस्कारवान बनाये: अनिता भदेल
आंगनवाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को शिक्षा के साथ संस्कारवान बनाये: अनिता भदेल

जयपुर | राजस्थान की महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिता भदेल ने कहा है कि आंगनवाड़ी केन्द्रों पर बच्चों को शिक्षा के साथ संस्कारवान बनाने की पहल करनी चाहिए।

भदेल आज यहां ब्रह्मपुरी स्थित गायत्री शक्ति पीठ के सभागार में विभाग तथा भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण, हवाई अड्डा, जयपुर के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित एक कार्यक्रम में बोल रही थी। उन्होंने आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं से कहा कि उन्हें केन्द्रों पर बच्चाें का ठहराव सुनिश्चित करना चाहिए। केन्द्रों पर स्वयं नियमित रूप से उपस्थित रहे और वहां आने वाले बच्चों के वजन एवं स्वास्थ्य की जांच, खेल कूद आदि गतिविधियों का समय पर आयोजन करे।

उन्होंने भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण जयपुर द्वारा नन्दघर योजना के तहत सीएसआर में समेकित बाल विकास परियोजना, जयपुर-तृतीय में 187 आंगनबाडी केन्द्रों के लिए प्रदान की गई वजन मशीन, छोटी अलमारी, पानी का कैम्पर, दरी, ट्राईसाईकिल आदि के वितरण की भी शुरूआत की। उन्होंने इसे अनुकरणीय पहल बताते हुए इसके लिए हवाई अड्डे के अधिकारियों एवं कार्मिकों की सराहना भी की। उन्होंने कहा कि आंगनवाड़ी केन्द्रों की सेवाओं की निगरानी के लिए आईसीटी-आरटीएन (सूचना संचार तकनीकी-वास्तविक समय निगरानी) के तहत जयपुर तृतीय परियोजना के तहत सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को स्मार्टफोन एवं महिला पर्यवेक्षकों को टेबलेट प्रदान किये गये है। इस अवसर पर भारतीय विमान पत्तन प्राधिकरण के महाप्रबन्धक (सीएसआर) संजीव जिन्दल ने भी अपने विचार व्यक्त किये।