कश्मीर के युवा ने हिंसा छाेड़, किया आत्मसमर्पण

Another Kashmir militant returns home after mother's appeal
Another Kashmir militant returns home after mother’s appeal

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में फुटबॉल खिलाड़ी से आतंकवादी बने माजिद खान के हिंसा का रास्ता छोड़ने का अनुसरण करते हुए घाटी के एक और युवा ने आत्मसमर्पण कर दिया है।

पुलिस महानिदेशक एसपी वैद ने ट्विटर पर कहा कि घाटी का एक और युवा मां की पुकार सुनकर हिंसा का रास्ता छोड़कर परिवार के पास लौट आया है। उन्होंने कहा कि युवा के परिवार के साथ जुड़ने पर मेरी शुभकामनाएं।

उन्होंने कहा भटके युवाओं को वापस मुख्यधारा में लाने के जारी प्रयासों के तहत आतंकवादी संगठन से जुड़ा एक और युवा हिंसा का रास्ता छोड़कर वापस घर आ गया है। वैद ने कहा कि सुरक्षा कारणों से युवक की पहचान उजागर नहीं की जा रही है।

इस साल चार युवा हिंसा का रास्ता छोड़कर मुख्यधारा में शामिल हुए हैं। पिछले साल नवंबर और दिसंबर में माजिद समेत कुल सात युवाओं ने हिंसा के रास्ते का छोड़ा था। माजिद ने नवंबर 2017 में सेना के सामने आत्मसमर्पण किया था। आधिकारिक जानकारी ने अनुसार घाटी में पिछले वर्ष लगभग 70 युवाओं को आतंकवादी संगठनों में शामिल होने से रोका गया था।