एंटोनियो गुटेरेस ने जी-20 नेताओं के घोषणापत्र की सराहना की

Antonio Guterres praised the G-20 leader's manifesto
Antonio Guterres praised the G-20 leader’s manifesto

न्यूयॉर्क । संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने अर्जेंटीना की राजधानी ब्यूनस आयर्स में सम्पन्न हुए विश्व की अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं के सम्मेलन जी-20 के घोषणापत्र की सराहना की है।

गुटेरेस ने रविवार को जारी बयान में घोषणापत्र के तीन संदेशों की जमकर सराहना की। सतत और टिकाऊ विकास के लिए एजेंडा 2030 के लिए सहयोग देने बात कही गयी। यह संयुक्त राष्ट्र निष्पक्ष वैश्विकरण दस्तावेज की पुष्टि करता है जिसमें विकास की दौड़ में किसी को पीछे न छोड़े जाने की बात कही गयी है। इसमें समावेशी, सशक्त, संतुलित और सतत विकास को हासिल करने के लिए सभी नीति उपकरणों के इस्तेमाल की शपथ ली गयी है।

जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई को ओर अधिक मजबूती से लड़ने पर जोर दिया गया है। घोषणापत्र में जी-20 के नेताओं ने पेरिस समझौते के हस्ताक्षरकर्ता देशोें को मजबूती के साथ सहयोग देने की बात कही गयी ताकि ये राष्ट्र अपनी प्रतिबद्धता को क्रियान्वित कर सके।

जी-20 के घोषणापत्र में सोमवार से पोलेंड में शुरू हुए जलवायु परिवर्तन पर होने वाले कांफ्रेस ऑफ पार्टीज (कोप 24) सम्मेलन के सफल होने को लेकर उत्साहित हैं। सम्मेलन में पेरिस समझौते के क्रियान्वयन के लिए पेरिस नियमावली को मंजूरी दी जानी है। इसके जरिए पहली बार दुनिया के लगभग सभी देश किसी एक साझे ‘लक्ष्य जलवायु परिवर्तन और इसके प्रभावों’ से निपटने के लिए प्रयासों को तेज करेंगे। नियमावली पर सहमति से पेरिस समझौते का क्रियान्वयन होगा।