राजस्थान में भाजपा का दलित चेहरा हैं अर्जुनराम मेघवाल

Verified Apps to watch T20 World Cup 2022 Live Stream

जयपुर। राजस्थान में बीकानेर संसदीय क्षेत्र से लगातार तीसरी बार निर्वाचित अर्जुनराम मेघवाल राजस्थान में भाजपा का चमकदार दलित चेहरा हैं।

पूर्व जिला कलेक्टर रहे अर्जुनराम मेघवाल का जन्म सात दिसम्बर 1954 में बीकानेर में एक साधारण परिवार में हुआ था। स्नातक की शिक्षा पूरी करने के बाद उन्होंने अपने करियर की शुरुआत दूरसंचार विभाग में ऑपरेटर के रूप में की। उसी दौरान उन्होंने एलएलबी की और वर्ष 1982 में वह राजस्थान प्रशासनिक सेवा की परीक्षा उत्तीर्ण करके राजस्थान उद्योग सेवा के लिए चुने गए।

बाद में वह सफलता की सीढ़ियां चढ़ते हुए विभिन्न पदों पर रहे और पदोन्नत होकर चूरु के जिला कलेक्टर नियुक्त हुए। इसी पद पर रहते हुए उन्होंने वर्ष 2009 में स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति लेकर राजनीति में कदम रखा। उसी वर्ष लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें बीकानेर से प्रत्याशी बनाया और वह पहले ही प्रयास में सांसद चुने गए। सांसद बनने के बाद वह साइकिल से संसद जाने के लिए भी चर्चित रहे।

इसके बाद मेघवाल ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और विपक्ष में रहते हुए लोकसभा में वह सर्वाधिक सक्रिय सांसदों में शुमार हुए। वर्ष 2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद हालांकि शुरुआत में उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया, लेकिन प्रधानमंत्री मोदी उनकी काबिलीयत की लम्बे समय तक अनदेखी नहीं कर सके और उन्हें वर्ष 2016 में वित्त राज्यमंत्री बनाया गया। बाद में उन्हें जल संसाधन और गंगा विकास मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई। मेघवाल भाजपा का राजस्थान में दलित चेहरा बनकर उभरे हैं। मंत्री के रूप में उनका प्रदर्शन संतोषजनक रहा है।