सेना में शामिल होने को तैयार है 155 एमएम की होवित्जर धनुष तोप

सेना में शामिल होने को तैयार है 155 एमएम की होवित्जर धनुष तोप
सेना में शामिल होने को तैयार है 155 एमएम की होवित्जर धनुष तोप

बीकानेर | राजस्थान में जैसलमेर जिले के पोखरण में लम्बी दूरी की मारक क्षमता से युक्त 155 एमएम की होवित्जर धनुष तोप का सफलतापूर्वक परीक्षण पूरा कर लिया गया है, और अब यह सेना में शामिल होने को तैयार है।

परीक्षण से जुड़े सूत्रों ने आज बताया कि पोखरण में छह धनुष तोपों से कुल 300 गोले दागे गये। परीक्षण के बाद आर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड (ओएफबी) के अधिकारियों ने अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि तोप की अचूक निशानेबाजी और लगातार गोले दागने की क्षमता असाधारण है। लिहाजा यह सेना में तैयार होने के लिये पूरी तरह तैयार है। परीक्षण के दौरान इसमें किसी तरह की खामी नहीं आई। तोप वांछित सभी मानकों पर आशानुरूप खरी उतरी है। सेना में शामिल होने के लिये अब सेना की स्वीकृति की जरूरत है।

सूत्रों ने बताया कि इस तोप का वर्ष 2013 से परीक्षण किया जा रहा है। अब तक इससे चार हजार गोले दागे जा चुके हैं। गत सात जून को पोखरण में हुए परीक्षण के अंतिम दिन 100 गोले दागे गये। इसकी क्षमता को परखने के बाद ओएफबी के विशेषज्ञों ने इसे सेना में शामिल होने के लिये हरी झंडी दे दी है। ओएफबी के सूत्रों ने बताया कि सेना को ऐसी कुल 400 तोपों की जरूरत है, हालांकि सेना ने अभी 18 तोपों के निर्माण के लिये कहा है। वैसे सेना की योजना फिलहाल 118 धनुष तोपों को शामिल करने की है।