अरविंद केजरीवाल एक डरपोक व्यक्ति : गजेन्द्र सिंह शेखावत

जालंधर। केंद्रीय मंत्री एवं पंजाब भारतीय जनता पार्टी के प्रभारी गजेंद्र सिंह शेखावत ने शुक्रवार को कहा कि नशा माफिया के खिलाफ लड़ाई लड़ने का दावा करने वाले आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने इसी मुद्दे पर शिरोमणि अकाली दल के वरिष्ठ नेता बिक्रम सिंह मजीठिया से बिना शर्त माफी मांगी थी।

शेखावत ने कहा कि केजरीवाल बीते कई महीनों से पंजाब में घूम रहे हैं और नशा माफिया को खत्म करने और उन्हें जेल में डालने के लिए व्यवस्था में बदलाव करने का दावा कर रहे हैं लेकिन वह केजरीवाल को याद दिलाना चाहते हैं कि उन्होंने एक डरपोक की तरह व्यवहार करते हुए, अकाली नेता मजीठिया से बिना शर्त माफी मांग ली थी।

शेखावत ने केजरीवाल द्वारा मजीठिया को लिखे माफीनामे का जिक्र करते हुए कहा कि जिस प्रकार आज केजरीवाल लोगों को जेल भेजने की बातें करते हैं, वह मजीठिया पर नशा माफिया के साथ मिले होने का आरोप लगाते थे, लेकिन जब मजीठिया ने इस संबंध में मानहानि का मामला दायर किया, तो एक साल के भीतर 15 मार्च, 2018 को केजरीवाल ने मजीठिया से यह कहते हुए बिना शर्त माफी मांग ली कि उनके द्वारा मजीठिया पर लगाए गए आरोप गलत हैं।

केंद्रीय मंत्री ने खुलासा किया कि तब पार्टी के मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष भगवंत मान ने भी तब इस माफी पर रोष व्यक्त करते हुए, पंजाब प्रधान के पद से इस्तीफा दे दिया था।