क्या दिल्ली में शुगर का ईलाज नहीं जो केजरीवाल जाते हैं बेंगलूरु?

As Arvind Kejriwal heads to Bengaluru for treatment, Kapil Mishra blasts aap chief Top Developments

नई दिल्ली। दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इलाज के लिए बेंगलूरु जाने पर सवाल खड़ा करते हुए कहा है कि यदि शुगर का इलाज राज्य सरकार के अस्पतालों में नहीं हो सकता है तो स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन को इस्तीफा दे देना चाहिए।

मिश्रा ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर एक वीडियो डाला है जिसमें केजरीवाल के इलाज के लिए बेंगलूरु जाने पर जमकर खिंचाई की है। उन्होंने कहा कि नौ दिन के धरने के बाद श्री केजरीवाल दस दिन की छुट्टी पर जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री इसको कैसे वाजिब ठहराएंगे और यह कैसे कहा जा सकता है कि वह दिल्ली के लिए गंभीर है। उपराज्यपाल ने अधिकारियों के साथ एक बैठक करने के लिए निर्देश दिया है किंतु धरना समाप्त करने के बाद अधिकारियों के साथ बैठक किए बिना ही वह जा रहे हैं।

दिल्ली के लोगों के साथ हमेशा धोखा करने का आरोप लगाते हुए मिश्रा ने लिखा कि यदि शुगर का इलाज राज्य सरकार के अस्पतालों में नहीं हो सकता है तो स्वास्थ्य मंत्री को इस्तीफा दे देना चाहिए।

मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि धरने पर रहने की वजह से केजरीवाल का शुगर लेबल बहुत बढ़ गया है और वह गुरुवार को इलाज के लिए बेंगलूरु जा रहे हैं। मुख्यमंत्री पहले भी बेंगलूरु जाकर प्राकृतिक चिकित्सा से अपनी बीमारी का इलाज करा चुके हैं।

केजरीवाल के बुधवार को धरना समाप्त करने के बाद कल पूरे दिन आराम करने के बाद रात को एक इफ्तार पार्टी में शामिल होने की भी मिश्रा ने आलोचना की है। उन्होंने कहा कि दिन भर बीमार रात भर इफ्तार मुस्लिम वोट बैंक की राजनीति आप को बीमार बहुत बीमार कर सकती है।