कांग्रेस सरकार की चौथी बार बाड़ेबंदी की योजना : राजेन्द्र सिंह राठौड़

जयपुर। राजस्थान में उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र सिंह राठौड़ ने राज्य की कांग्रेस सरकार पर सरकार बचाने के लिए विधायकों की बाड़ेबंदी करने की योजना बनाने का आरोप लगाया हैं।

राठौड़ ने केन्द्र की मोदी सरकार के आठ साल सेवा, सुशासन एवं गरीब कल्याण को लेकर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में आज यह बात कही। उन्होंने कहा कि राज्य की कांग्रेस सरकार के आगामी नवम्बर में चार वर्ष पूरे हो जाएंगे और मुख्यमंत्री की हिम्मत नहीं कि वह सरकार उपलब्धियों का रिपोर्ट कार्ड किसी भी वर्ष जनता के बीच लेकर जाए।

रिपोर्ट कार्ड देखा जाए तो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं कांग्रेस के गुजरात प्रभारी रघु शर्मा ने कहा है कि हालात बदतर से बदतर है और अब चुनाव हो जाए तो कांग्रेस सरकार 15 सीटों पर सिमट जाएगी।

उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नामांकन के बाद गुरुवार को मुख्यमंत्री ने बाड़ाबंदी की बात कही। कुल मिलाकर इससे पहले यह पहली हुकुमत है कि जिसने 58 दिन तक बाड़ाबंदी में गुजारे। एक रिकार्ड बनेगा। उन्होंने कहा कि भाजपा पर होर्स ट्रेडिंग का आरोप लगा रहे हैं जबकि यह तो पूरा हाथी ही निगल गए।

डा राठौड़ ने कहा कि गहलोत के राज्य सरकार के बाड़ेबंदी के दौरान विधायकों को 35 करोड़ रुपए का आफर देने के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि झूठी बात करके भ्रमाने की कोशिश करने से काम नहीं चलेगा। उन्होंने कहा कि कांग्रस के चिंतन शिविर के बाद उसके कुछ विधायकों का विरोध एवं नाराजगी भी सामने आ रही है।