राजस्थान में बजरी माफिया भाजपा सरकार की देन : अशोक गहलोत

Assembly Elections 2018: Raje govt patronised liquor, land and sand mafia in Rajasthan : Ashok Gehlot

उदयपुर। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संगठन महामंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया राजस्थान में भू-माफिया बजरी माफिया मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की देन हैं।

गहलोत ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि इन तमाम माफियाओं का संरक्षण सरकार की देखरेख में किया गया। यह पहली सरकार है जिससे शराब माफिया, बजरी माफिया एवं भू माफियाओं को पनपाने का काम किया हैं।

उन्होंने कहा कि राज्य मेें आमजन दुखी हैं। खाद्य सुरक्षा के तहत दो रुपये किलोग्राम मिलने वाले २५ लाख परिवारों अर्थात एक करोड लोगों को राशन के गेंहू नहीं मिल रहा है। इसके लिए लगाई गई पोश मशीनें काम नहीं कर रही हैं। मनरेगा योजना के तहत कांग्रेस सरकार में 25 लाख लोगों को रोजगार मिलता था जो वर्तमान में घटकर ढाई लाख लोग रह गए।

उन्होंने कहा कि सामाजिक सुरक्षा पेंशन के मामले में कांग्रेस सरकार ने पांच सौ रुपए प्रति माह देना शुरू की गई थी उसमें इस सरकार ने बढोतरी नहीं की। इसमें एकल नारी, अंत्योदय परिवार, गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों पर इस महंगाई के दौर में की क्या बीतती होगी हम समझ सकते हैं।

गहलोत ने कहा कि राजे अब भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को झुक झुक कर प्रणाम कर रही हैं लेकिन वह अपने कार्यकाल में मतदाताओं को झुक झुककर प्रणाम करती तो उनकी आज यह हालत नहीं होती।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने संभाग मुख्यालयों पर पन्द्रह पन्द्रह दिनों का राज्य सरकार को ले जाने का कार्यक्रम बनाया था। उदयपुर से शुरू किया यह कार्यक्रम जयपुर, बीकानेर के बाद बंद हो गया। कोटा में पांच बार इस तरह का कार्यक्रम बना लेकिन निरस्त हो गया।