चुनावी राज्यों में रैलियों, रोडशो पर प्रतिबंध 22 जनवरी तक बढ़ा

नई दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण के दृष्टिगत देश के पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए रैलियों, रोडशो तथा साइकल, मोटरसाईकल और पद यात्राओं पर 22 जनवरी तक प्रतिबंध बढ़ा दिया है तथा कहा है कि इसके बाद के हालात की समीक्षा की जाएगी।

आयोग ने लेकिन राजनीतिक दलों को कुछ राहत प्रदान करते हुए कोविड नियमों तथा चुनाव आचार संहिता का पालन सुनिश्चित करते हुए 300 लोगों तक की इंडोर अथवा सभागाार की 50 प्रतिशत क्षमता या राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण(एसडीएमए) द्वारा निर्धारित सीमा के अनुसार बैठकों की अनुमति प्रदान कर दी है।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुशील चंद्रा और निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार और अनूप चंद्र पांडे और अन्य अधिकारियों की चुनावी राज्यों गोवा, मणिपुर, उत्तरांचल और उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिवों और स्वास्थय सचिवों के साथ आज हुई वर्चुअल बैठकों के दौरान ये फैसले लिए गए। बैठक में सम्बंधित राज्याें में कोविड के हालात की समीक्षा की व्यापक समीक्षा की गई।

बैठक में फ्रंट लाईन वर्करों समेत पात्र लोगों की कोविडरोधी पहली, दूसरी और बूस्टर डोज़ टीकाकरण की प्रगति की समीक्षा की गई। आयोग ने इसके अलावा एसडीएमए की सम्बंधित राज्यों में लागू कोविड के मद्देनज लागू प्रतिबंधों और लोगों के एकत्रित होेने को लेकर जारी दिशानिर्देशों की भी समीक्षा की। आयोग ने कहा कि नए निर्देशों के अलावा गत आठ जनवरी को जारी अन्य पाबंदियों चुनावी राज्यों में जारी रहेंगी।