इंडोनेशिया में फुटबॉल मैच में भगदड़, 170 से ज्यादा लोगों की मौत

जकार्ता। इंडोनेशिया के पूर्वी जावा प्रांत में एक फुटबॉल मैच के दौरान मची भगदड़ में कम से कम 174 लोगों की मौत हो गई। इंडोनेशिया के पूर्वी जावा के उप-राज्यपाल एमिल दर्डक ने रविवार को यह जानकारी दी।

उन्होंने कोम्पास टीवी ब्रॉडकास्टर को बताया कि अधिकारियों ने शनिवार को मलंग के कांजुरुहान स्टेडियम में हारने वाले पक्ष के समर्थकों पर आंसू गैस के गोले दागे। इसके परिणामस्वरूप भीड़ में भगदड़ मच गई और कुल 174 लोगों की मौत हो गई। करीब 100 से अधिक लोग घायल हुए हैं, जिनमें से 11 की हालत गंभीर है।

स्टेडियम के अंदर ही 30 से अधिक मौतें हुईं, जहां लोगों को न केवल भगदड़ के दौरान, बल्कि आंसू गैस के इस्तेमाल के कारण घुटन से भी पीड़ित होना पड़ा। इंडोनेशियाई फुटबॉल संघ (पीएसएसआई) के महासचिव यूनुस नुसी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल महासंघ (फीफा) ने त्रासदी पर एक रिपोर्ट भेजने का निर्देश दिया है।

इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने त्रासद हादसे के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और पुलिस तथा पीएसएसआई को पूरी जांच करने का आदेश दिया। इंडोनेशियाई फुटबॉल लीग के खेल अगली सूचना तक स्थगित रहेंगे।

पुलिस अधिकारियों के अनुसार हारने वाली टीम के समर्थकों ने हार को स्वीकार नहीं किया और बड़ी संख्या में समर्थक फुटबॉल मैदान में घुस गए। इसके बाद पुलिस के साथ संघर्ष हो गया और भगदड़ मच गई।

स्थानीय मीडिया रिपोर्टो के अनुसार दोनों टीमों के समर्थक स्टेडियम के अंदर आपस में झगड़ने लगे। पुलिस ने उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े जिससे भीड़ में दहशत फैल गई और स्टेडियम से बाहर निकलने के लिए भगदड़ मच गई। इंडोनेशिया के युवा और खेल मंत्री ज़ैनुद्दीन अमली ने घटना के लिए माफी मांगी और कहा कि अधिकारी घटना की जांच करेंगे।