आंधी और तूफान से यूपी, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ में 54 की मौत

fair damaged during after a storm in Ranchi

नई दिल्ली। भीषण गर्मी के बीच उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड और छत्तीसगढ़ में आये आंधी- तूफान और व्रजपात ने जमकर कहर ढाया जिससे 54 लोगों की मौत हो गई और बड़ी संख्या में लोग घायल हो गए।

आंधी-तूफान का सबसे अधिक कहर बिहार में देखा गया। कल देर शाम आये इस बवंडर ने 19 लोगों की जान ले ली। झारखंड में 13, उत्तर प्रदेश में 15 और छत्तीसगढ़ में अब तक दो लोगों के मारे जाने की खबर है।

बिहार के गया, औरंगाबाद, कटिहार, नवादा और मुंगेर में सोमवार देर शाम आयी तेज आंधी-तूफान और वज्रपात से 19 लोगों की मौत हो गई तथा कई अन्य घायल हो गए।

आपदा प्रबंधन विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत ने यहां बताया कि राज्य के पांच जिलों में आए आंधी और तूफान में जहां आठ लोग मारे गये वहीं वज्रपात होने से 11 लोगों की मौत हुई है।

अमृत ने बताया कि आंधी-तूफान से गया में पांच और कटिहार में तीन लोगों की मौत हो गई। वज्रपात के कारण औरंगाबाद में पांच, नवादा में दो जबकि मुंगेर में चार लोगों की मौत हुई है। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आंधी-तूफान और वज्रपात में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिजनों को चार-चार लाख रुपए सहायता राशि देने का आदेश दिया है।

उत्तर प्रदेश में कल रात आये आंधी-तूफान से 15 लोगों की मृत्यु हो गई तथा 20 से अधिक लोग घायल हो गए। प्रचंड गर्मी की मार झेल रहे प्रदेश में कई क्षेत्रों में कल रात अंधड़ और तूफान और बारिश ने जहां राहत दी वहीं तेज हवाओं से सैकड़ों पेड़ धराशायी हो गए।

राहत परियोजना निदेशक टीपी गुप्ता ने आज यहां बताया कि रात में आए आंधी- तूफान की चपेट में आकर 15 लोगों की मृत्यु हो गई। मौसम जनित हादसों में उन्नाव में छह, रायबरेली में तीन तथा कानपुर, पीलीभीत तथा गाेंडा में दो- दो व्यक्तियों की मृत्यु हो गई।

मौसम विभाग के अनुसार पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में आंधी और बारिश के आसार बरकरार हैं। अगले 24 घंटे में कई इलाकों में तेज रफ्तार हवायें चलने और बारिश का अनुमान है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हालांकि गर्मी के तल्ख तेवर लोगों को परेशान करेंगे।