अफगानिस्तान में तालिबान और आत्मघाती हमले में 92 से अधिक लोगों की मौत

At least 92 dead following Afghanistan attacks
At least 92 dead following Afghanistan attacks

काबुल। अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में बुधवार को एक अात्मघाती हमले में 48 लोगों की मौत हो गई और 35 अन्य घायल हो गए जबकि उत्तरी प्रांत बघलान में तालिबानी आतंकवादियों के हमले में 44 अफगान पुलिसकर्मी और सैनिक मारे गए।

स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि बघलान हमले में 35 सैनिक और नौ पुलिसकर्मी मारे गए हैं लेकिन तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा उनके समूह ने एक सैन्य शिविर और दो चौकियों को निशाना बनाया। हमले में 70 अफगानी सैनिक मारे गए और सेना के बख्तरबंद वाहनों तथा गोला बारूद को जब्त कर लिया है।

इसके बाद दिन मेें अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के पश्चिमी शिया क्षेत्र में एक शैक्षणिक केंद्र पर आत्मघाती हमले में कम से कम 48 लोग मारे गए और 67 अन्य घायल हो गए।

अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र सहायता मिशन ने लड़ाई को रोकने का आह्वान करते हुए कहा है कि गजनी में अभी तक लगभग 150 नागरिकों की जान जा चुकी है, जहां सार्वजनिक अस्पताल पूरी तरह ध्वस्त हो गये हैं और पानी और बिजली आपूर्ति पूर्णरूप से बाधित हो गई है।

अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र के शीर्ष अधिकारी टाडामिची यामामोटो ने अपने बयान में कहा कि गजनी में लड़ाई से लोग बहुत पीड़ित हैं अौर अफगानिस्तान में युद्ध को तत्काल खत्म करने की आवश्यकता है।

तालिबान ने शुक्रवार से गजनी में हमले शुरू किए और अफगानी सैनिकों ने अमरीकी हवाई हमलों से हमले का जवाब दिया। तालिबान ने कहा शहर में विनाश को रोकने के लिए उनके लड़ाकों को शहर से बाहर निकाला जा रहा है। तालिबानी कमांडर ने टेलीफोन पर बताया कि दो दिनों से बिजली आपूर्ति बंद हो गई है और खाद्य आपूर्ति तथा जलापूर्ति की कमी सामने आ रही है।