विराट कोहली विस्फोट से भारत ने ड्रा कराई सीरीज

Australia vs India : Virat Kohli’s unbeaten 61 helps tourists draw T20 series

सिडनी। कप्तान विराट कोहली की नाबाद 61 रन की जिम्मेदारी भरी विस्फोटक पारी के दम पर भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे और अंतिम ट्वंटी-20 मुकाबले में रविवार को छह विकेट से हराकर तीन मैचों की सीरीज 1-1 से ड्रा करा ली।

भारत ने लेफ्ट आर्म स्पिन आलराउंडर क्रुणाल पांड्या की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी (36 रन पर चार विकेट) की बदौलत ऑस्ट्रेलिया को छह विकेट पर 164 रन पर रोका और फिर विराट के 2018 के पहले ट्वंटी-20 अर्धशतक से 19.4 ओवर में चार विकेट पर 168 रन बनाकर जीत हासिल कर ली।

विराट ने 2018 में पहली बार तीसरे नंबर पर उतरते हुए मात्र 41 गेंदों पर चार चौके और दो छक्के उड़ाते हुए नाबाद 61रन की मैच विजयी पारी खेली। मैच अंत में बेहद रोमांचक अंदाज में समाप्त हुआ। एंड्र्यू टाई के आखिरी ओवर की पहली दो गेंदों पर कोई रन नहीं बना।

भारतीय कप्तान ने तीसरी और चौथी गेंद पर लगातार दो चौके जड़ते हुए भारत को जीत दिलाई और सीरीज ड्रा करा दी। विराट के साथ दिनेश कार्तिक 18 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 22 रन बनाकर नाबाद रहे। दोनों ने पांचवें विकेट के लिए मात्र 39 गेंदों पर 60 रन की मैच विजयी अविजित साझेदारी की।

भारत ने इस तरह ट्वंटी-20 क्रिकेट में अपनी पिछली 10 सीरीज में अपना अपराजेय क्रम बरकरार रखा। भारत ने 2017-18 में ऑस्ट्रेलिया से तीन मैचों की घरेलू ट्वंटी-20 सीरीज 1-1 से ड्रा खेली थी और अब ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर यह सीरीज 1-1 से ड्रा करा ली।

सीरीज का पहला वर्षा बाधित मैच ऑस्ट्रेलिया ने जीता लेकिन दूसरा मैच बारिश के कारण रद्द रहा। भारत ने अपने लिए निर्णायक मुकाबले में चुनौतीपूर्ण लक्ष्य का पीछा करते हुए अच्छी शुरुआत की। रोहित शर्मा और शिखर धवन ने पहले विकेट के लिए मात्र 5.3 ओवर में 67 रन ठोक डाले। लेकिन इसी स्कोर पर दोनों बल्लेबाज लगातार ओवरों में आउट हो गए।

पहला विकेट शिखर का गिरा जिन्हें मिशेल स्टार्क ने पगबाधा किया। शिखर ने 22 गेंदों पर 41 रन में छह चौके और दो छक्के लगाए। अगले ओवर में एडम जम्पा ने रोहित को बोल्ड कर दिया। रोहित ने 16 गेंदों पर 23 रन में एक चौका और दो छक्के लगाए।

विराट ने लोकेश राहुल के साथ स्कोर को 108 तक पहुंचाया लेकिन एक बार फिर भारत ने एक ही स्कोर पर दो विकेट गंवाए। राहुल को ग्लेन मैक्सवेल ने 13 वें ओवर की आखिरी गेंद पर आउट किया जबकि अगले ओवर की पहली गेंद पर ऋषभ पंत विकेट के पीछे लपके गए। पंत का विकेट टाई ने लिया।

चार विकेट 108 के स्कोर पर गिराने के बाद भारतीय खेमे पर चिंता के बादल मंडराने लगे थे लेकिन कप्तान विराट ने अपना 19वां ट्वंटी-20 अर्धशतक जमाते हुए भारत को दो गेंद शेष रहते जीत की मंजिल पर पहुंचा दिया। अपने कप्तान का अच्छा साथ दिया कार्तिक ने जिन्होंने अपनी उपयोगिता साबित करते हुए नाबाद 22 रन की पारी खेली। क्रुणाल पांड्या को मैन ऑफ द मैच और शिखर को मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला।

इससे पहले लेफ्ट आर्म स्पिन आलराउंडर क्रुणाल पांड्या ने अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी करते हुए चार ओवर 36 रन पर चार विकेट लेकर ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों पर अंकुश लगाया। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव ने कसी हुई गेंदबाजी करते हुए चार ओवर में मात्र 19 रन देकर एक विकेट लिया।

ऑस्ट्रेलिया की पारी में कोई अर्धशतक नहीं लगा लेकिन उसके चार बल्लेबाजों ने उपयोगी योगदान देकर टीम को चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया। ओपनर डी आरसी शार्ट ने 29 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से सर्वाधिक 33 रन बनाये। उन्होंने कप्तान आरोन फिंच के साथ पहले विकेट के लिए 8.3 ओवर में 68 रन की साझेदारी की।

कप्तान फिंच ने 23 गेंदों पर 28 रन में चार चौके लगाए। विकेटकीपर एलेक्स कारी ने 19 गेंदों पर 27 रन में चार चौके लगाए जबकि मार्कस स्टॉयनिस ने 15 गेंदों पर तीन चौके लगते हुए नाबाद 25 रन बनाये। ग्लेन मैक्सवेल ने 16 गेंदों पर 13 रन, क्रिस लिन ने 10 गेंदों पर 13 रन और नाथन कोल्टर नाइल ने सात गेंदों पर नाबाद 13 रन का योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया की पारी में एक भी छक्का नहीं लगा।

क्रुणाल पांड्या ने आरसी शार्ट, मैक्सवेल, बेन मैकडरमॉट और कारी के विकेट लिए। यादव ने फिंच को आउट किया। लिन को जसप्रीत बुमराह ने रन आउट किया।