नए पोर्टल पर प्रतिदिन औसतन 15.55 लाख करदाता कर रहे लॉगइन

नई दिल्ली। आयकर विभाग के नये पोर्टल पर प्रतिदिन औसतन 15.55 लाख करदाताओं के लॉगइन करने का हवाला देते हुए वित्त मंत्रालय ने आज कहा कि इस पोर्टल पर आ रही समस्याओं को दूर करने के लिए वह लगातार इसका प्रबंधन करने वाली कंपनी इंफोसिस के साथ संपर्क में है और इसका निगरानी कर रहा है।

उल्लेखनीय है कि गत 7 जून को इस पोर्टल को लॉन्च किया गया था और उसी दिन से इसको लेकर समस्याएं आ रही और करदाताओं को रिटर्न भरने में दिक्कत हो रही है। मंत्रालय ने आज जारी बयान में कहा कि कई तकनीकी समस्यायें दूर की जा चुकी है और इसका असर भी दिख रहा है।

सात सितंबर 2021 तक 8.83 करोड़ करदाताओं ने इस पोर्टल पर लॉगइन किया है। सितंबर में प्रतिदिन औसतन 3.2 लाख आयकर रिटर्न दाखिल किए जा रहे है और अब तक मूल्याकंन वर्ष 2021-22 के लिए 1.19 करोड़ रिटर्न भरे जा चुके हैं। 76.2 लाख करदाताओं ने इस पोर्टल की ऑनलाइन यूटिलिटी का रिटर्न दाखिल करने के लिए उपयोग किया है।

उसने कहा कि 94.88 लाख से अधिक रिटर्न का ई वेरिफिकेशन हो चुका है और उसमें से 7.07 लाख रिटर्न का प्रोसेस भी हो चुका है। इसके अतिरिक्त विभाग के फेसलेस अस्सेमेंट के तहत 8.74 लाख नोटिस जारी किये जा चुके है और उनमें से 2.61 लाख को जबाव भी मिला है।

विभाग ने कहा कि 66.44 लाख करदाताओं ने आधार और पैन को जोड़ा है और 14.59 लाख ई पैन जारी किए गए हैं।