अयोध्या में 7.50 लाख दीपों से घाट होंगे जगमग, बनेगा विश्व रिकार्ड

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राम नगरी अयोध्या के घाट तीन नवम्बर को छोटी दीपावली के दिन 7 लाख 50 हजार दीपों की रोशनी से जगमगाएंगे।

महानिदेशक एवं प्रमुख सचिव पर्यटन मुकेश मेश्राम ने गुरूवार को कहा कि दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन भव्य तरीके से किया जाएगा। छोटी दीपावली के दिन अयोध्या में इस बार 7.50 लाख (सात लाख पचास हजार) दीये एक साथ जलाए जाने का लक्ष्य रखा गया है जो कि एक विश्व रिकार्ड होगा।

उन्होंने विभाग के सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि दीपोत्सव कार्यक्रम की तैयारिया में कोई कमी न रहे, कार्यक्रम भव्य तरीके से कराया जाए जो कि आम जनमानस पर अमिट छाप छोड़ सके।

दीपोत्सव में सूचना विभाग द्वारा साकेत महाविद्यालय अयोध्या से राम कथा पार्क तक भव्य झांकियों की व्यवस्था की जाएगी। प्रमुख सचिव ने कहा कि रोचक, सम सामयिक एवं व्यवहारिक झांकियों का प्रस्तुतीकरण किया जाएगा।

संस्कृति विभाग द्वारा राम वनगमन मार्ग, शिल्प बाजार संग्रहालय परिसर में डिजिटल रामायण का प्रदर्शन इत्यादि किया जाएगा इसके साथ ही साथ भोपाल, बिहार, गोण्डा एवं अयोध्या के दलों द्वारा सुंदर एवं मनमोहक झांकियों का प्रदर्शन भी किया जाएगा।

24 दलों द्वारा पारंपरिक लोकनृत्य प्रस्तुत किया जाएगा। इसके अतिरिक्त सांस्कृतिक तथा अन्य कार्यक्रम संपन्न होंगे। दीपोत्सव के अवसर पर संस्कृति विभाग द्वारा शिल्प प्रदर्शनी, चित्राकृतियों की प्रदर्शनी तथा श्रीराम की वैश्विक यात्रा मंचन आदि से संबंधित कार्य संपन्न किए जाएंगे।

मेश्राम ने बताया कि डॉ. राम मनोहर लोहिया विश्वविद्यालय अयोध्या द्वारा दीपोत्सव- 2021 में राम की पैड़ी पर 7.50 लाख दीये एक साथ प्रज्जवलित कर गिनीज बुक आॅफ वल्र्ड रिकॉर्ड बनाए जाने हेतु दीये-बाती, तेल एवं वालण्टियर्स की व्यवस्था की जाएगी। प्रमुख सचिव ने कहा कि वालंटियर्स को लोगो लगी हुई टी-शर्ट एवं कैप प्रदान की जाए।