इंजरी समय में मोरक्को के आत्मघाती गोल से जीता ईरान

Aziz Bouhaddouz own goal in added time hands Iran win against Morocco

सेंट पीटर्सबर्ग। ईरान पर शुक्रवार को भाग्य इतना मेहरबान था कि इंजरी समय में मोरक्को के आत्मघाती गोल से उसे विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के ग्रुप बी मुकाबले में 1-0 से जीत मिल गयी।

मैच ड्रा की तरफ अग्रसर था कि 95वें मिनट में मोरक्को के अज़ीज बोहादौज ने हैडर से आत्मघाती गोल कर जीत ईरान की झोली में डाल दी। इस गोल से मोरक्को का खेमा सकते में आ गया और उसके जख्म हरे हो गए। मोरक्को इस मुकाबले से पहले 2026 के विश्वकप की मेजबानी अमेरिका, कनाडा और मैक्सिको को गंवा चुका था।

अपने ग्रुप में स्पेन और पुर्तगाल जैसी मजबूत टीमों की मौजूदगी को देखते हुए ईरान के लिए यह जीत किसी वरदान से कम नहीं रही। ईरान अब एक ड्रा खेल कर भी अगले दौर में पहुंच सकता है।

दोनों टीमें अंक बांटने की तरफ बढ़ रही थी और मैच बस समाप्त होने वाला ही था कि एहसान हज़्ज़ाफ़ी ने लहराती हुई फ्री किक ली और बोहादौज ने पोस्ट के पास से गेंद को क्लियर करने की कोशिश की लेकिन उनका हैडर अपने ही गोल में चला गया।

ईरान की विश्व कप इतिहास में यह दूसरी जीत है और अब अगले मैचों के लिए उसका हौसला बढ़ जायेगा। ईरान पांचवीं बार विश्वकप में खेल रहा है लेकिन ग्रुप चरण से आगे जाना का उसका सपना अब तक अधूरा रहा है।

मोरक्को ने विश्वकप के लिए बिना कोई गोल खाए क्वालीफाई किया था और 18 मैच अपराजित रहते हुए निकाले थे लेकिन आत्मघाती गोल ने उसे करारा झटका दे दिया।