बागेश्वर नाबालिग रेप केस : DNA जांच में नाबालिग निकला जैविक पिता

नैनीताल। उत्तराखंड के बागेश्वर में नाबालिग युवती से दुष्कर्म के सनसनीखेज मामले में की गई डीएनए जांच अहम साबित हुई और नाबालिग युवक ही नाबालिग युवती के गर्भ में पल रहे बच्चे का जैविक पिता पाया गया हैं।

पुलिस ने आरोपी को हरिद्वार स्थित विशेष संरक्षण गृह भेजने के आदेश जारी कर दिए हैं। इस सनसनीखेज घटना में कांडा तहसील के भटूड़ा गांव में एक नाबालिग लड़की दुष्कर्म का शिकार हो गई थी और युवती का गर्भ ठहर गया था। इस बात का पता जब घरवालों को चला तो पिता ने लोकलाज की खातिर लड़की का गला घोंट कर हत्या कर दी और इसे आत्महत्या का स्वरूप दे दिया।

अगले दिन ग्रामीणों ने युवती को दफना दिया लेकिन इस घटना के दो दिन बाद लड़की की मां ने दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने को लेकर तहरीर सौंप दी। यहीं से कहानी में नाटकीय मोड़ आया और पुलिस ने मजिस्ट्रेट की अगुवाई में शव को कब्र से निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट से लड़की की हत्या का खुलासा हो गया।

पुलिस मामले की गहराई में गई तो हत्या के आरोप में पिता को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। मामला यहीं नहीं रूका और परिवार पर अचानक आए दुखों के इस पहाड़ को लड़की के दादा सहन नहीं कर पाए और बताया जाता है कि उन्होंने भी पहाड़ से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली।

इस सब के बीच पुलिस के लिए दुष्कर्मी का पता लगाना जरूरी हो गया था और पुलिस ने डीएनए जांच की प्रक्रिया पूरी कर चार संदिग्धों के नमूने जांच के लिए भेजे।

कांडा के थानाध्यक्ष प्रह्लाद सिंह ने बताया कि शुक्रवार को डीएनए रिपोर्ट आने के बाद उन्होंने युवक को अपने संरक्षण में ले लिया। आरोपी पीड़िता के गांव का है। सिंह ने बताया कि आरोपी तब नाबालिग था और अब वह बालिग है। उसे अदालत में पेश करने के बाद हरिद्वार के विशेष संरक्षण गृह भेजा जा रहा है।

इस घटनाक्रम के अनुसार लड़की गांव में अपने दादा-दादी के साथ रहती थी और उसके परिवार के शेष सदस्य बागेश्वर के जेठाई में रहते थे। युवक ने इसी का फायदा उठाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। लड़की की तबियत जब खराब रहने लगी तो उसकी दादी इसी साल 7 जुलाई को उसे अस्पताल ले गई और घटना पर से पर्दा उठा।

इस प्रकरण से आहत पिता ने उसी रात को गांव जाकर युवती का गला घोंट दिया और वापस अपने घर आ गया। अगले दिन लोगों ने आत्महत्या समझकर ग्रामीणों ने युवती को दफना दिया। इस पूरे मामले से अनजान मां ने दुष्कर्मी के खिलाफ कार्यवाही को लेकर पुलिस को तहरीर सौंप दी।

शेयर करें