बड़वानी : आवासीय विद्यालय से लापता 14 साल की आदिवासी छात्रा से रेप

बड़वानी। मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा ग्रामीण थाना पुलिस ने बीती रात्रि छात्रावास से लापता हुई छात्रा को बरामद कर उसे बहला-फुसलाकर ले जाने और दुष्कर्म के मामले में युवक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है।

सेंधवा ग्रामीण थाने के नगर निरीक्षक विकास कपीस ने बताया कि जामली स्थित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय में रहकर पढ़ाई करने के दौरान लापता हुई 14 वर्षीय छात्रा को ढूंढ लिया गया। उसकी शिकायत पर आज रात्रि एक युवक के विरुद्ध अपहरण और दुष्कर्म एवं पॉक्सो एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर उसकी तलाश आरंभ कर दी गई है।

उन्होंने बताया कि 13 सितंबर को तबीयत खराब होने के चलते उक्त युवक उसे छात्रावास से नवलपुरा स्थित घर ले जाने के लिए निकला था। लेकिन वह उसे घर न ले जाते हुए उसे बड़वानी और फिर महाराष्ट्र के अकोला ले गया, जहां एक मंदिर में शादी रचा ली। किसी कंपनी के घर में रख आरोपी ने उसके साथ दुष्कर्म किया और अगले दिन उसके गांव राजमोली लेकर आ गया था।

परिजनों द्वारा कल गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराए जाने पर कार्रवाई की गई और आज उसे निवाली से सेंधवा लाया गया। छात्रा के परिजनों ने एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की अधीक्षिका पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि परिवार को सूचना दिए बगैर उसे अन्य लड़के के हाथ सौंप दिया गया।

उधर, अधीक्षिका का कहना है कि छात्रा ने आंखों में संक्रमण की बात कह कर परिजनों को बुलाया था और उक्त लड़के को अपने भाई के रूप में बताया था। आवश्यक दस्तावेजी कार्रवाई कर उसे उस लड़के को सौंप दिया गया था।

उन्होंने बताया कि अन्य छात्राओं को भी संक्रमण का खतरा था, इसलिए उसे घर जाने के लिए कहा गया था। आज आदिवासी संगठनों में विकास खंड शिक्षा अधिकारी के समक्ष घटनाक्रम को लेकर रोष प्रकट किया।

सेंधवा के विकास खंड शिक्षा अधिकारी लोकेंद्र सोहनी ने बताया की दसवीं बोर्ड की परीक्षा के मद्देनजर छात्राओं को आदर्श आवासीय विद्यालय बुलाया गया था लेकिन घटना के चलते आवासीय विद्यालय की समस्त छात्राओं को आज घर भेज दिया गया है। जिला स्तरीय क्राइसिस मैनेजमेंट समिति के निर्देश के बाद आगामी निर्णय लिया जाएगा।