बीसीसीआई ने राज्यों को आईपीएल के बाद टी-20 लीग आयोजित करने को दी मंजूरी

BCCI approves states to organize T20 league after IPL
BCCI approves states to organize T20 league after IPL

दुबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने विभिन्न राज्य क्रिकेट संघों को आईपीएल की समाप्ति के तुरंत बाद अपनी-अपनी टी-20 लीग आयोजित करने की मंजूरी दे दी है।

बीसीसीआई के अंतरिम मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) हेमांग अमीन ने बुधवार को सभी राज्य क्रिकेट संघों को भेजे मेल में कहा कि शीर्ष निकाय कोरोना महामारी की स्थिति को देखते हुए 15 दिन के कूलिंग ऑफ क्लॉज को हटा कर राज्य संघों को एक बार फिर टूर्नामेंट आयोजन की मंजूरी देता है।

अमीन ने मेल में कहा, बीसीसीआई आपको वर्ष 2021 के लिए टूर्नामेंट आयोजित करने की मंजूरी देते हुए बहुत खुश है। इस संबंध में आपको बीसीसीआई द्वारा जारी की गई एडवाइजरी और दिशा-निर्देशों का पालन करने का निर्देश दिया जाता है। हम यह दोहराते हैं कि महामारी की स्थिति के कारण यह एक बार प्रदान की गई अनुमति है और यह आदर्श नहीं है। शीर्ष परिषद के एक हालिया फैसले का अनुसरण करते हुए यह मंजूरी दी गई है।

जानकारी के मुताबिक मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) के अलावा तमिलनाडु, कर्नाटक और सौराष्ट्र ने अपनी-अपनी लीग आयोजित करने की अनुमति मांगी थी।

अंतिरम सीईओ के मुताबिक राज्य लीग के लिए सामान्य दिशा-निर्देशों के तहत टूर्नामेंट को आईपीएल के दौरान या आईपीएल से 15 दिन पहले और 15 दिन बाद या 15 सितंबर से फरवरी 2022 के दौरान आयोजित करने की अनुमति नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी इस बात पर ध्यान दें कि टूर्नामेंट की मेजबानी करते समय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा नियुक्त बीसीसीआई की प्रबंधकीय समिति द्वारा जारी एडवाइजरी का पालन जरूर किया जाए।

उल्लेखनीय है कि मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन (एमसीए) ने अपनी लीग टी-20 मुंबई के दो ही सत्रों का आयोजन किया है।
इस तरह के टूर्नामेंटों पर भ्रष्टाचार के आराेपों के बाद बीसीसीआई की ओर से लिए फैसले के बाद इसे रोकना पड़ा था। मुख्य रूप से कर्नाटक प्रीमियर लीग (केपीएल) का 2019 संस्करण विवादों में रहा था। एमसीए की आठ टीमों की इस लीग में रोहित शर्मा को छोड़कर श्रेयस अय्यर, सूर्य कुमार यादव, पृथ्वी शॉ और धवल कुलकर्णी जैसे मुंबई के सभी प्रमुख खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। एमसीए के अधिकारी अब आईपीएल के तुरंत बाद टी-20 मुंबई शुरू करने की योजना बना रहे हैं, जो एक जून से शुरू हो सकती है। फिलहाल वे कानूनी मुद्दों पर काम कर रहे हैं, क्योंकि दिशा-निर्देशों के अनुसार टूर्नामेंट को आउटसोर्स तरीके से आयोजित नहीं किया जा सकता, एसोसिएशन को लीग का आयोजन खुद करना होगा।

लीग के पहले दो संस्करण प्रोबेबिलिटी स्पोर्ट्स नामक एक एजेंसी द्वारा आयोजित किए गए थे, जिसके साथ एमसीए का पांच साल का अनुबंध है। उम्मीद है कि तमिलनाडु प्रीमियर लीग (टीएनपीएएल) भी एक जून को ही आयोजित होगी। तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन (टीएनसीए) के एक अधिकारी ने इसकी पुष्टि की है।