बीसीसीआई चार दिसंबर की एजीएम के दौरान नियुक्त करेगा लोकपाल

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) आगामी चार दिसंबर को होने वाली अपनी 90वीं वार्षिक आम बैठक (एजीएम) में लोकपाल की नियुक्ति करेगा।

क्रिकबज के अनुसार बीसीसीआई सचिव जय शाह की ओर से शनिवार को ई-मेल के जरिए भेजे गए पत्र में राज्य क्रिकेट संघों को एजीएम के एजेंडे की जानकारी दी गई है, जिसमें लोकपाल और नैतिकता अधिकारी की नियुक्ति प्रमुख बिंदुओं में से एक है।

दरअसल बीसीसीआई में वर्तमान में लोकपाल नहीं हैै, जबकि यह एक संवैधानिक आवश्यकता है। उल्लेखनीय है कि सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति डीके जैन हाल तक लोकपाल थे, लेकिन उनका कार्यकाल कुछ महीने पहले समाप्त हो गया था। उनके स्थान पर अब तक कोई नियुक्ति नहीं हुई है और न ही उन्हें सेवा विस्तार दिया गया है। पत्र में एजीएम का स्थान कोलकाता होने की भी पुष्टि की गई है।

समझा जाता है कि एजेंडे के आइटम पांच में एक दिलचस्प बिंदु ‘चयनकर्ताओं की नियुक्ति पर अपडेट करना’ है। दिलचस्प बात यह है कि कोई भी चयनकर्ता अपना कार्यकाल पूरा नहीं करने वाला है। चेतन शर्मा की अध्यक्षता वाली चयन समिति के सभी पांचों सदस्यों के कार्यकाल को पूरा होने में कम से कम एक वर्ष बचा है।

टी-20 विश्व कप फाइनल और आईसीसी बैठकों के लिए दुबई में मौजूद बीसीसीआई के पदाधिकारियों की ओर से तत्काल इस पर कोई टिप्पणी नहीं की गई है, लेकिन राज्य के एक अधिकारी ने कहा है कि एजीएम में जूनियर चयनकर्ताओं की नियुक्ति भी हो सकती है।

उल्लेखनीय है कि इस साल सितंबर में बीसीसीआई ने एस शरथ (अध्यक्ष), किशन मोहन, रानादेब बोस, पथिक पटेल और हरविंदर सिंह सोढ़ी (सदस्य) के साथ जूनियर चयन समिति का गठन किया था।

समझा जाता है कि बीसीसीआई के घरेलू सत्र (2021-22), आईसीसी टी-20 विश्व कप 2021, भारत के भविष्य के दौरे कार्यक्रम (एफटीपी) और सीनियर भारतीय पुरुष क्रिकेट टीम के सपोर्ट स्टाफ की नियुक्ति से संबंधित मामलों पर अपडेट एजेंडे के अन्य प्रमुख बिंदु हैं।

यह भी कहा जा रहा है कि एजीएम में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की गवर्निंग काउंसिल में जनरल बॉडी के दो नए सदस्यों और इंडियन क्रिकेटर्स एसोसिएशन (आईसीए) के एक प्रतिनिधि को भी शामिल किया जाएगा।