बैतूल में पानी भरने को लेकर विवाद, महिला को जिंदा जलाया

बैतूल। मध्यप्रदेश के बैतूल में पानी भरने को लेकर हुए विवाद में एक महिला को आज जिंदा जला दिया गया। घटना में पांच आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है।

बैतूल बाजार थाना प्रभारी भैयालाल उइके ने बताया कि बडोरा कृष्णा नगर निवासी द्वारका बाई साहू (40) को सुबह केरोसिन डालकर जिंदा जलाया है। पीड़िता ने अपनी सास, ससुर, देवरानी और दो देवर पर जिंदा जलाने का आरोप लगाया है।

सूचना मिलने पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची। महिला को गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन उसकी हालत गंभीर होने पर उसे भोपाल रेफर किया है।

जानकारी के मुताबिक पीड़ित महिला और आरोपी पक्ष के लोग एक साथ रहते थे। कुछ महीने पहले सभी अलग हो गए। पीड़िता के हिस्से में सेप्टिक टैंक आया और आरोपी पक्ष के हिस्से में पानी का नल आया।

आरोपी पक्ष द्वारा पीड़ित पक्ष को नल से पानी नहीं भरने दिया जा रहा था, वहीं सेप्टिक टैंक का उपयोग पीड़ित पक्ष के द्वारा आरोपी पक्ष को नहीं करने दिया जा रहा था। इसी बात को लेकर दोनों के बीच विवाद था।

गुरुवार सुबह जब महिला पानी भरने के लिए नल पर गई तो विवाद हो गया। आरोपी पक्ष के लोग भी सेफ्टी टैंक को तोड़ने पहुंच गए। विवाद इतना बढ़ा कि द्वारका बाई को सास, ससुर, देवरानी, देवर ने मिलकर केरोसिन डालकर जिंदा जला दिया। इस दौरान आरोपियों ने महिला के पति और बेटी को कमरे में बंद कर दिया था।

थाना प्रभारी उइके ने बताया कि महिला की शिकायत पर आरोपी देवर राजेंद्र साहू, भोला साहू, ससुर भादिया साहू, सास रामरति बाई, देवरानी लल्ली बाई साहू पर धारा 307 का मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी है। शीघ्र आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। महिला 95 प्रतिशत जल गई है।