अजमेर : भगवान महावीर स्वामी की 2617वीं जयंती पर निकली शोभायात्रा

अजमेर। राजस्थान में साम्प्रदायिक सौहार्द की धार्मिक नगरी अजमेर में भगवान महावीर स्वामी की 2617वीं जयंती बुधवार को धूमधाम से मनाई गई।

महावीर जयंती के मौके पर अजमेर के केसरगंज क्षेत्र से श्रीदिगम्बर जैन जैसवाल मंदिर से भव्य एवं विशाल शोभायात्रा का आयोजन किया गया। शोभायात्रा के शुभारंभ से पहले ‘जैन ध्वज’ का ध्वजारोहण किया गया और भगवान महावीर एवं जैन धर्म के जयकारे लगाए गए।

भगवान महावीर का संदेश ‘जियो और जीने दो’, परस्पर पग्रोह ना जीवानाम् के अलावा उनके जीवन एवं आचरण से जुड़ी 40 से ज्यादा झाकियां आकर्षण का केन्द्र बनी रहीं। शोभायात्रा में बैण्ड बाजे, ढोल नगाड़ों बैलगाड़ी घोड़े स्कूली बच्चों, के अलावा श्री जी स्वर्णमयी सफेद घोडों का रथ, ऐरावत हाथी साथ चल रहे थे।

शोभायात्रा केसरगंज जैन मंदिर से शुरू होकर शहर के विभिन्न मार्गों से गुजरी। शोभायात्रा का रास्ते में जगह जगह पुष्प वर्षा के साथ जैनधर्मावलम्बी ने स्वागत किया।

शोभायात्रा मदारगेट एवं नयाबाजार होते हुए शोभायात्रा जब ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह के आगे से निकली तो मुस्लिम समुदाय की ओर भव्य स्वागत करके कौमी एकता एवं भाईचारे का संदेश दिया गया। यहां मुस्लमान भाई, जैन समाज के प्रमुख लोगों की दस्तारबंदी भी की गई। सूफी इन्टरनेशनल संस्था की ओर यह परम्परा वर्ष 1999 से निभाई जा रही है।

इधर, सकल श्वेताम्बर समाज की ओर से भी पूरे अजमेर जिले में महावीर स्वामी की जयंती मनाए जाने के समाचार हैं। मुख्य समारोह महावीर भवन पंडाल में आयोजित कार्यक्रम में महासती सुप्रग्या ने भगवान महावीर के अहिंसा, सत्य, अचौर्य, अपरिग्रह और ब्रह्मचर्य जैसे महान सिद्धांतों पर चलने की प्रेरणा दी गई।


महावीर जयंती पर गले मिले बीजेपी और कांग्रेस प्रत्याशी

महावीर जयंती के मौके पर निकाली गई शोभायात्रा में राजनीतिक दलों के नेताओं तथा भाजपा व कांग्रेस के दोनों प्रत्याशियों क्रमश: भागीरथ चौधरी व रिजु झुनझुनवाला ने शिरकत की। इस दौरान सौहार्द का आलम यह था कि दोनों ने राजनीतिक प्रतिद्वंदता से परे एक दूसरे के गले लगकर बधाई दी तथा जैन समाज को शुभकामनाएं प्रेषित की। इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष विजय जैन, भाजपा नेता नीरज जैन, विधायक वासुदेव देवनानी समेत बडी संख्या में लोग मौजूद रहे।