सर्द भरी रात में भजन संध्या, डटे रहे राम भक्त

bhajan sandhya at ram naam parikrama mahotsav 2017-18 at azad park ajmer

अजमेर। आजाद पार्क में चल रही 54 अरब हस्त लिखित श्रीराम नाम परिक्रमा महोत्सव में मंगलवार देर शाम देर शाम भगवान राम को समर्पित ‘एक शाम किशोरी जी के नाम’ में श्री सर्वेश्वर संकीर्तन मण्डल ने श्रद्धा और भक्ति से परिपूर्ण एक से बढकर एक भजनों की प्रस्तुति दी।

गणपति वंदना आवो जी आवो गणराज पधारो म्हारे आगणिएं… से शुरू हुई भजन संध्या में भक्ति की रसधार ऐसी ऐसी बही की सर्द भरी रात में श्रोता डटे रहे। रघुवर राम सियावर राम हमारे प्रभु राम सियावर राम…, लगन तुमसे लगा बैठे जो होगा देखा जाएगा तुम्हे अपना बना बैठे…, गोविन्द्र चले आओ गोपाल चले आओ…, राधे राधे बोल थारो काई लागे…, ये जीवन शुद्ध बना देना… भजनों पर श्रोता झूम कर नाचने लगे।

भजन गायक अशोक तोषनीवाल ने अपने भजनों से भजन संध्या को परवान चढा दिया। हरि भज ले, हरि का नाम ले जय गोविंदा जय नन्दलाल…, श्रीराधे गोविंदा मन भज ले हरि का प्यारा नाम है गोपाला हरि का प्यारा नाम है…, तेरी रहमत के सदके हैं बन्दे तेरे देखते ही देखते क्या हो गए…, उनके मिथिला भाषा में गाए भजन ओ पाहुना अब मिथले में रहूं ना…पर भक्तों ने तालियों की गडगडाहट से पांडाल गूंजा दिया। सांवली सूरत पर मोहन दिल दीवाना हो गया राधे राधे राधे…, म्हारा जूना जोशी हरी से मिलन कब होसी…, मेरी विनती यही है राधा रानी कृपा बरसाए रखना…जैसे भजनों से राम भक्तों को निहाल किया। मंडल प्रमुख सचिन गोयल ने भी अपने भजनों की माला श्रोताओं को अर्पित की।