बारिश में काल का ग्रास बन रहा भाखर क्षेत्र का पशुधन

आबूरोड (सिरोही)। पशुओं में बीमा की सुविधा नहीं मिलने से सिरोही जिले के आबूरोड स्थित भाखर क्षेत्र के आदिवासी पशु पालको को प्रति वर्ष वर्षा ऋतु में भारी आर्थिक नुकसान उठाता है।

बीमारियों एवं बहाव से खोते जान

क्षेत्र में वर्षा ऋतु में मौसमी बीमारियों से गाय, भैस, बैल, बकरी एवं भेड़ों को अकाल मौत का शिकार होना पड़ता है तो कई बत्तीसा के बहाव में बहकर काल का ग्रास बन जाते हैं। इसके बाद भी पशु पालन महकमे की उदासीनता के चलते आदिवासी वर्ग पशुधन की मौत के बदले पुनर्भरण से वंचित हो रहा है।

मना की दुधारू भैंस ने तोड़ा दम

हाल ही में राखी के दूसरे दिन बत्तीसा नाला वेग पर था। मीणा छापर के मना राम पुत्र जवा राम की दूधारू भैंस बहाव के साथ जल निकासी पाइप में फंस गई और मौत हो गई।