भारत जोड़ो यात्रा ने मध्यप्रदेश से राजस्थान में किया प्रवेश

आगरमालवा। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा ने आज मध्यप्रदेश के आगरमालवा जिले से देर शाम राजस्थान की सीमा में प्रवेश किया। इस अवसर पर मध्यप्रदेश और राजस्थान के हजारों कार्यकर्ता तथा पार्टी नेता मौजूद थे।

गांधी की यात्रा ने मध्यप्रदेश की सीमा पर बसे चांवली गांव से राजस्थान में प्रवेश किया। यात्रा ने महाराष्ट्र की सीमा से मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में 23 नवंबर को प्रवेश किया था। यह यात्रा राज्य में बारह दिनों तक रही।

इसके पहले गांधी की पदयात्रा आज सुबह आगरमालवा जिले के लालाखेड़ी के पास अन्नपूर्णा ढाबा से प्रारंभ हुयी और यह सुबह लगभग दस बजे सोयतकला पहुंच गयी। पूर्वान्ह का यात्रा विराम यहीं पर रहा। इसी स्थान से पदयात्रा दोपहर साढ़े तीन बजे फिर प्रारंभ हुई और शाम काे लगभग साढ़े छह बजे डोंगरगांव में पिपलेश्वर बालाजी मंदिर के पास पहुंची। इसी स्थान से यात्रा ने कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान में प्रवेश किया।

गांधी की भारत जोड़ो यात्रा लगभग तीन माह पहले कन्याकुमारी से प्रारंभ हुई थी। इस यात्रा ने 23 नवंबर को महाराष्ट्र से मध्यप्रदेश से बुरहानपुर जिले में प्रवेश किया था। इसके बाद श्री गांधी बारह दिनों में बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, इंदौर, उज्जैन होते हुए आगरमालवा जिले में पहुंचे। गांधी की यात्रा जम्मू कश्मीर पहुंचकर संपन्न होगी। वे अब तक दो हजार से अधिक किलोमीटर चल चुके हैं।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह, जयराम रमेश, पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव, जीतू पटवारी, कुणाल चौधरी, विवेक तन्खा, विधानसभा में विपक्ष के नेता डॉ गोविंद सिंह, जयवर्धन सिंह, सचिन यादव समेत दर्जनों वरिष्ठ नेता, पदाधिकारी और हजारों कार्यकर्ता राज्य में यात्रा के साथ रहे।