भारत विकास परिषद द्वारा भारत को जानो प्रतियोगिता का आयोजन

अजमेर। भारत विकास परिषद अजमेर मुख्य व अजयमेरू शाखा के सयुंक्त रूप से स्थानीय आनंदम समारोह स्थल वैशाली नगर अजमेर में भारत को जानो प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। शिक्षाविद प्रोफेसर नागेन्द्र सिंह (डीन महर्षि दयानंद विश्व विद्यालय) कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व योग गुरु अनिता लालवानी विशिष्ट अतिथि रहे। अध्यक्षता पर्यवेक्षक व प्रांतीय संरक्षक मुकुट बिहारी मालपानी ने की।

कार्यक्रम का शुभारंभ भारत माता व स्वामी विवेकानंद के चित्र पर तिलक लगाकर, माला पहनाकर और दीप प्रज्वलन कर किया गया।

जिला अध्यक्ष दिलीप पारीक ने बताया कि यह प्रतियोगिता का द्वितीय चरण है। प्रथम चरण 10 सितंबर को सभी विद्यालय मे आनलाइन माध्यम से आयोजित किया गया था। उसमें सभी विद्यालय से प्रथम व द्वितीय रहे विद्यार्थी एक टीम के रूप में द्वितीय चरण में भाग ले रहे हैं।

मुख्य शाखा अध्यक्ष सुरेश गोयल ने बताया कि प्रतियोगिता में कनिष्ठ व वरिष्ठ ग्रुप की 32 टीमों ने भाग लिया। प्रतिभागियों से विभिन्न राउंड में धर्म-संस्कृति, राजनीति, इतिहास, अर्थव्यवस्था, भूगोल, खेलकूद वह नवीनतम समसामयिक प्रश्न पूछे गए।

अजयमेरू शाखा सचिव अनुपम गोयल ने बताया कि कनिष्ठ वर्ग की प्रतियोगिता में राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय वैशाली नगर अजमेर के जिया मनुराज व गौरव किर प्रथम व एमजी आर्य पब्लिक स्कूल के लक्षिता शर्मा व लवीना सेन द्वितीय स्थान प्राप्त किया।

वरिष्ठ वर्ग की प्रतियोगिता में मथुरा प्रसाद गुलाबदेवी आर्य कन्या विद्यालय के आभा शर्मा व चेतना बालोटिया ने प्रथम, टर्निंग प्वाइंट स्कूल अजमेर के दिग्विजय सिंह व परल फुलवानी ने द्वितीय स्थान प्राप्त किया। सभी विजेताओं को शाखा की तरफ से प्रमाण पत्र वह मोमेंटो से सम्मानित किया गया।

दोनों वर्ग में प्रथम रही टीम प्रतियोगिता के तृतीय चरण जो 3 अक्टूबर 2021 शाहपुरा में आयोजित होगा मे अजमेर का प्रतिनिधित्व करेगी। प्रांतीय संरक्षक व पर्यवेक्षक मुकुट बिहारी मालपानी ने इस अवसर पर कहा कि विद्यार्थियों मे भारतीय संस्कृति से जोड़ते हुए आगे बढ़ने हेतु इस तरह की प्रतियोगिता से विद्यार्थियों का आत्म मनोबल बढ़ता है।

प्रांतीय संयोजक भारत को जानो प्रतियोगिता के बारे में बताते हुए डाक्टर हरीश बैरी ने कहा कि इस प्रतियोगिता कि विशेषता यह है कि इसमें भारत के धार्मिक, ऐतिहासिक, भोगोलिक व राजनैतिक विषय कर प्रश्न विद्यार्थियों से पूछे जाते हैं जो कि भविष्य में उनके द्वारा दी जाने वाली प्रशासनिक प्रतियोगी परीक्षाओं में बहुत मदद करती है।

अजयमेरू शाखा कोषाध्यक्ष अशोक टांक ने बताया कि प्रथम चरण में जिन विद्यालयों से सर्वाधिक प्रविष्टियां प्राप्त हुई उन सभी विद्यालयों का भारत विकास परिषद की तरफ से स्वामी विवेकानंद का स्मृति चिन्ह दिया गया। सर्वाधिक प्रविष्टियां स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल अजमेर, रायन इंटरनेशनल स्कूल अजमेर, एमजी आर्य पब्लिक स्कूल इंग्लिश मीडियम, महेश्वरी इंटरनेशनल स्कूल, सेंट्रल एकेडमी स्कूल, मथुरा प्रसाद गुलाब देवी आर्य कन्या विद्यालय से प्राप्त हुई।

मुख्य शाखा सचिव रमेश जाजू ने सभी का आभार प्रकट किया जिन्होंने इस कार्यक्रम को सफल बनाने में सहयोग दिया। कार्यक्रम का संचालन प्रांतीय संयोजक डॉक्टर हरीश बैरी व बृजेश माथुर ने किया। इस अवसर पर परिषद परिवार से सोम रत्न आर्य, मोहनलाल कुमावत, अतुल मालू, धर्मेंद्र मेहतानी, राजेश अग्रवाल, हेमंत गुप्ता, सुनील गोयल उपस्थित रहे।