भारत वाहिनी पार्टी सत्ता ही नहीं व्यवस्था भी बदलेगी : अखिलेश तिवाड़ी

Bharat Vahini Party chief Akhilesh Tiwari
Bharat Vahini Party chief Akhilesh Tiwari

जयपुर। राजस्थान गौरव यात्रा की पूर्व तैयारियों को लेकर भारत वाहिनी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश तिवाड़ी ने दुर्गापुरा के वार्ड 44 में युवा वाहिनी कार्यकर्ताओं की बैठक ली।

बैठक में 19 अगस्त को सांगानेर में होने वाले समरसता सम्मेलन के लिए कॉलोनी अनुसार संयोजक तय कर कार्यकर्ताओं के समेत सभी समाज के लोगों को आमंत्रण भी दिया। इस दौरान युवा वाहिनी ने सभी 21 बूथों पर 500 युवाओं की टीम बनाने की योजना बनाई।

अखिलेश तिवाड़ी ने कहा कि प्रदेश में दोनों राजनीतिक दलों ने आम जनता को फुटबाल बना रखा है। आम जनता पांच साल एक दल के पैरों में और अगले पांच साल दूसरी पार्टी के पैरों में तड़पती नजर आती है।

इस माहौल में नई क्रांति की शुरूआत के लिए संगठन निर्माण जरूरी दिखाई पड़ता है। भाजपा और कांग्रेस ने आपस में जो साझेदारी कर रखी है उसे खत्म करने के लिए दोनों दलों को हटाकर सत्ता परिवर्तन की आवश्यकता है।

पार्टी के संस्थापक अध्यक्ष तिवाड़ी ने कहा कि प्रदेश में केवल सत्ता परिवर्तन करने से ही कुछ नहीं होने वाला, जब तक व्यवस्था परिवर्तन नहीं होगा, तब तक हमारे जीवन में कोई खास बदलाव नहीं आएगा।

उन्होंने कहा कि यदि वास्तविक परिवर्तन चाहिए तो व्यक्ति परिवर्तन करना होगा और इसकी शुरूआत के लिए अच्छे लोगों को राजनीति में लाना होगा। इसीलिए भारत वाहिनी पार्टी ने केवल सत्ता ही नहीं व्यवस्था परिवर्तन का काम भी अपने हाथों में लिया है।

अखिलेश तिवाड़ी ने कहा कि हमने पिछले सत्तर वर्षों में समाज को जातियों, धर्मों, सम्प्रदायों और यहां तक की गोत्रों में बांट दिया। जबकि राजनीति का मूल काम समाज को जोड़ना व समरसता पैदा करना है। जब तक राजनीति में अध्यात्म प्रवेश नहीं करेगा तब तक किसी भी समस्या का समाधान नहीं होने वाला। राजनीति में अध्यात्म को प्रवेश कराने का कार्य भारत वाहिनी करेगी।

बैठक में सुधांशु जैन, भवानी पाईवाल, शैलेन्द्र माथुर, युवा वाहिनी सांगानेर अध्यक्ष अशोक सलोदिया, महामंत्री विक्रम सिंह, वार्ड 44 अध्यक्ष विनायक जैन, वार्ड 39 अध्यक्ष राजकिरण वर्मा भी मौजूद थे।