सीएम कौन होगा ये मतदाता तय करेगा कोई पार्टी अध्यक्ष नहीं : तिवाड़ी

bharat vahini party chief ghanshyam tiwari visits ajmer
bharat vahini party chief ghanshyam tiwari visits ajmer

अजमेर। भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष घनश्याम तिवाड़ी ने कहा कि राज्य सरकार गौरव यात्रा के नाम पर आमजन का पैसा पानी की तरह बहा रही है। ये एक तरह से जानबूझकर किया जा रहा आर्थिक अपराध है। ये ‘गौरव यात्रा’ नहीं ‘कौरव यात्रा’ है, राज्य सरकार इस यात्रा के माध्यम से राजस्थानी स्वाभिमान का चीर हरण कर रही है, जिसे जनता कभी माफ नहीं करेगी।

घनश्याम तिवाड़ी ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के वसुंधरा राजे को मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित किए जाने पर ​कहा कि अमित शाह प्रदेश का मुख्यमंत्री कौन बनेगा ये तो राजस्थान की 7 करोड़ जनता तय करेगी। देश में तानाशाही शासन नहीं है लोकतांत्रिक शासन चल रहा है और लोकतंत्र में किसी पार्टी का अध्यक्ष नहीं प्रदेश का मतदाता तय करता है कि किसे सीएम बनाना है और किसे हटाना है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की एक एक दीवार पर स्पष्ट लिखा है कि विधानसभा चुनाव 2018 में भाजपा की ऐतिहासिक हार होने वाली है। इस सरकार ने काला कानून, एसआईआर बिल, 13 नंबर के बंगले पर कब्जा करने जैसे काले कारनामों को शह देने से आमजन में असंतोष की लहर पैदा कर दी है।

उन्होंने कहा कि काला कानून जैसा बिल अगर विधानसभा में पास हो जाता तो हम लोग आज अजमेर में बैठकर बात नहीं कर रहे होते। वहीं इस प्रदेश सरकार ने स्थानान्तरण को गृह उद्योग में ही परिवर्तित कर दिया। तिवाड़ी ने कहा कि हमारा राज्य भले ही पीएसी की पीएआई रिपोर्ट में पिछड़ा घोषित किया जा चुका है। अगर इस स्थानान्तरण की दर को विकास दर में जोड़ दिया जाए तो राजस्थान की विकास दर भारत की विकास दर से भी ज्यादा हो जाएगी।

ईबीसी आरक्षण के लिए भी ब्राह्मण, राजपूत, वैश्य और अन्य आरक्षण से वंचित समाजों को सरकार से सवाल पूछना चाहिए और इसके लिए आंदोलन करना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजपूत, ब्राह्मण, वैश्य, कायस्थ के साथ ही आरक्षण से वंचित अन्य समाज के बच्चों के साथ वर्तमान सरकार ने धोखा किया है।

उन्होंने कहा कि हम पिछले 14 साल से लगातार वंचित वर्ग के आरक्षण की लड़ाई लड़ रहे हैं, जिसे यह सरकार स्वीकृति के बावजूद दबाकर बैठी है। अगर वंचित वर्ग को आरक्षण चाहिए तो भारत वाहिनी पार्टी को प्रदेश में जिताकर राजस्थान को बचाना होगा।

तिवाड़ी ने कहा कि सिंधिया परिवार ने राजस्थान के साथ विशेषत: मारवाड़ क्षेत्र के साथ अन्याय करती रही है। उन्होंने बताया कि मैंने जोधपुर और जयपुर में भी प्रेस वार्ता कर सिंधिया परिवार के ​द्वारा राजस्थान के साथ किए गए अन्यायों का खुलासा किया था। तिवाड़ी ने कहा कि वायसराय लार्ड कैनिंग ने कहा था कि यदि भारत में ग्वालियर रियासत के सिंधिया वंश ने हमारी मदद की न की होती तो हम भारत में दो दिन भी नहीं टिक पाते।

वकीलों व मुस्लिम समाज ने किया स्वागत

तिवाड़ी मंगलवार को अजमेर के दौरे पर थे, जहां रोड शो के दौरान उनका जगह-जगह पर मालाओं और ढोल नगाड़ों से जोरदार स्वागत हुआ। वे भारत वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार अजमेर आए थे। तिवाड़ी का घूघरा घाटी पर मालाओं के साथ स्वागत किया गया, जहां से वे कार्यकर्ताओं के साथ वाहन रैली के रूप में इंडोर स्टेडियम, पटेल मैदान पहुंचे। इंडोर स्टेडियम में कार्यकर्ताओं ने तिवाड़ी को 150 किलो की पुष्प माला पहनाकर भव्य स्वागत किया। रैली के दौरान ही सेशन कोर्ट के अधिवक्ताओं ने माला पहनाकर स्वागत किया, वहीं स्टेशन के पास मुस्लिम समाज ने भी तिवाड़ी का सत्कार किया।

इस दौरान भारत वाहिनी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव अशोक यादव, प्रदेश कोषाध्यक्ष मुरारी शर्मा, सुदामा शर्मा, कैलाश चंद शर्मा, प्रकाश मुद्गल, कुणाल धवन, कपिल व्यास समेत सैकडों कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

घनश्याम तिवाडी का दावा, भारत वाहिनी पार्टी को प्रदेश की जनता सौंपेगी सत्ता

घनश्याम तिवाडी का अजमेर में रोड शो, दिखाई राजनीतिक ताकत