घनश्याम तिवाडी का दावा, भारत वाहिनी पार्टी को प्रदेश की जनता सौंपेगी सत्ता

Bharat Vahini Party to contest on all 200 Assembly seats in Rajasthan says Ghanshyam Tiwari
Bharat Vahini Party to contest on all 200 Assembly seats in Rajasthan says Ghanshyam Tiwari

अजमेर। विधानसभा चुनावों से पूर्व ही प्रदेश में गर्माए माहौल ​के ​बीच भारत वाहिनी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष घनश्याम तिवाडी ने भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि लोकतंत्र में किसी पार्टी का अध्यक्ष, कार्यकर्ता या प्रधानमंत्री किसी मुख्यमंत्री को नहीं चुनता है, यह अधिकार सिर्फ और सिर्फ मतदाता के पास होता है। मतदाता ही एकमात्र सत्ता है, उसे ही यह अधिकार मिला हुआ है कि किसे चुने और किसे नकार दे।

अजमेर में रोड शो के बाद पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए तिवाडी ने वसुंधरा राजे का नाम लिए बिना कहा कि महारानी के राज से प्रदेश की जनता त्रस्त हो चुकी है। आलम यह है कि पार्टी के भीतर ही विरोध के स्वर उठ रहे हैं इसके बावजूद बीजेपी का आलाकमान चुप्पी साधे बैठा है और तानाशाही भरे शासन का समर्थन कर रहा है।

उन्होंने कहा कि मैं एकमात्र ऐसा एमएलए रहा हूं जिसने पूरे चार साल इस बिगडी शासन व्यवस्था के खिलाफ आवाज बुलंद की। विधानसभा से लेकर सडक तक इस सरकार को कटघरे में खडा किया। मुझे पार्टी से निकालने की धमकी देकर चुप कराने की कोशिश की गई लेकिन मैं नहीं झुका और सच व न्याय के मार्ग पर अडिग रहा।

आज भारत वाहिनी पार्टी अन्य राजनीतिक पार्टियों के सामने मजबूत होकर आम मतदाता के लिए विकल्प के रूप में सामने है। प्रदेश में यह पार्टी तीसरी ताकत बनकर उभरी है। उन्होंने दावा किया कि इसमें कोई संशय नहीं की विधानसभा चुनाव में भारत वाहिनी पार्टी मजबूती के साथ उभरेगी। बीजेपी और कांग्रेस के कुशासन से तंग आई प्रदेश की जनता को भारत वाहिनी पार्टी से अपेक्षा और आशाएं हैं, वह इसे सत्ता सौंपने को आतुर है।

आने वाले चुनाव में पार्टी समान विचारधारा वाले राजनीतिक दलों और नेताओं के साथ मिलकर जनता के बीच जाएगी साथ ही प्रदेश की सभी सीटों पर उम्मीदवार खडे किए जाएंगे। टिकट वितरण को लेकर उन्होंने दो टूक कहा कि जो कार्यकर्ता संगठन के साथ कंधे से कंधा मिलाकर निष्ठा के साथ काम में लगे हुए हैं उन्हें अनदेखा नहीं किया जाएगा। इसके लिए चुनाव समिति का गठन होगा, वह तय करेगी कि कौन उम्मीदवार हो।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने इस बात को सिरे से खारिज कर दिया कि भारत वाहनी पार्टी किसी एक समाज या ब्राहमणवाद को लेकर आगे बढ रही है। उन्होंने कहा कि ब्राहमणवाद नाम की कोई चीज ही नहीं होती। हमने सर्वजन हिताय, सर्व जन सुखाय का नारा दिया है। इसमें सब लोग आते हैं, यह सबकी पार्टी है। हमारी पार्टी के महामंत्री जाट समाज के हैं, उपाध्यक्ष गुर्जर से हैं। इस पार्टी में सब जाति समाज के लोग है, यह कोई जातिवादी संगठन नहीं है।

घनश्याम तिवाडी का अजमेर में रोड शो, दिखाई राजनीतिक ताकत