भामसं की बैठक में कलक्टर आरती डोगरा का स्वागत

अजमेर। भारतीय मजदूर संघ जिला अजमेर कार्यकारिणी की जिला बैठक रविवार को संघ के हाथी भाटा पावर हाउस स्थित कार्यालय में आयोजित की गई।

भारतीय मजदूर संघ के प्रदेश अध्यक्ष किशन सिंह तंवर के सान्निध्य में हुई बैठक में बिजली कंपनियों के निजीकरण पर रोक लगाने, निर्माण श्रमिकों के मजदूर कार्ड बनवाने, जिले में व्याप्त श्रमिक समस्याओं के निराकरण तथा आंगनबाड़ी में कार्यरत बहनों को राज्य कर्मचारी घोषित करने आदि विषयों पर विस्तार से चर्चा की गई।

आगामी जिला अधिवेशन 5 अगस्त को आयोजित करने का निर्णय लिया गया। जिला अधिवेशन में 18 यूनियनों की लगभग 1000 प्रतिनिधि भाग लेंगे।

कलक्टर आरती डोगरा का स्वागत

हाथी भाटा पावर हाउस परिसर में भामसं की बैठक के दौरान ही जिला कलेक्टर आरती डोगरा टाटा पावर के कॉल सेंटर पर शिकायतों के निवारण की व्यवस्था को देखने के लिए पहुंची थीं। ऐसे में संघ की ओर से उन्हें भी बैठक में आमंत्रित कर स्वागत किया गया।

इस अवसर पर जिला मंत्री विनीत कुमार जैन ने उन्हें बताया कि अजमेर में हजारों की संख्या में भारतीय मजदूर संघ के कार्यकर्ता हैं। श्री सीमेंट ब्यावर, मार्बल उद्योग किशनगढ़, वस्त्र उद्योग, आंगनवाडी, विद्युत, जलदाय, रोडवेज, ऑटो रिक्शा यूनियन, एचएमटी आदि में सक्रिय संगठन भामसं से संबद्ध हैं। संगठित मजदूर और असंगठित मजदूरों के अधिकारों की रक्षार्थ भामसं सदैव अग्रणी भूमिका निभाता है।

संघ की ओर से आशा जताई गई कि जिला कलेक्टर की ओर से अजमेर जिले के मजदूरों की समस्याओं के निदान के लिए सदैव सहयोग मिलेगा। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष एवं संभाग प्रभारी भोलानाथ आचार्य, जिला अध्यक्ष भुवनेश्वर प्रकाश, कार्यकारी अध्यक्ष सीएन धर्म पारवानी, आनंद सिंह, निहाल, कल्पना मिश्रा, ममता सेन, मनीष जैन आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।