भीलवाडा के पुलिस अधीक्षक रामेश्वर सिंह को धमकी भरा पत्र

भीलवाड़ा। राजस्थान विधान सभा चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के रूप में जहाजपुर सीट से चुनाव हारने वाले पूर्व विधायक धीरज गुर्जर के भाई नीरज को गिरफ्तार करने और उसे पुलिस थाने में पीटने के मामले में भीलवाड़ा के पुलिस अधीक्षक को देख लेने और बदला लेने की धमकी दी गई है। इस मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कर रहे हैं।

भीलवाड़ा के पुलिस अधीक्षक डॉ.रामेश्वर सिंह को पिछले दिनों डाक के जरिए एक पत्र मिला था जिसमें पूर्व विधायक धीरज गुर्जर के भाई नीरज गुर्जर को गिरफ्तार करने और उसके साथ मारपीट करने का बदला लेने की धमकी कुश कुमार के नाम से दी गई है जिसमें कहा गया है कि उसके साथी इसका बदला लेंगे।

इस पत्र के मिलने के बाद पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच का जिम्मा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिलीप सैनी को सौंपा । सैनी ने इस संबंध में पहलवान कुश कुमार वैष्णव तथा कुछ सम्बंधित लोगों से भी पूछताछ की लेकिन धमकी भरे पत्र लिखने का खुलासा नहीं हो पाया है।

उल्लेखनीय है कि विगत दो माह पूर्व सब्जी मण्डी में नीरज गुर्जर और उसके भाई को पूर्व पार्षद गोविंद गुर्जर के साथियों के साथ कथित रूप से खुले आम गोलीबारी किये जाने के बाद गिरफ्तार किया गया था। पुलिस ने बताया की धमकी भरा यह पत्र इन्द्रा मार्केट स्थित डाकघर से पोस्ट किया गया था है। इस संबंध में गहन जांच पड़ताल की जा रही है।