तालिबान के सहयोग पर अमरीका का 31 अगस्त तक वापसी मिशन संभव : बिडेन

वाशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति जो बिडेन ने कहा कि अगर तालिबान उसके ऑपरेशन को बाधित नहीं करता है तो अमरीका अगस्त के अंत तक अफगानिस्तान से अपना वापसी मिशन को पूरा कर पाएगा।

बिडेन ने मंगलवार को व्हाइट हाउस में टिप्पणी के दौरान कहा कि हम वर्तमान में 31 अगस्त तक वापसी अभियान समाप्त करने की गति पर हैं। लेकिन 31 अगस्त तक पूरा होना तालिबान द्वारा सहयोग जारी रखने और उन लोगों के लिए हवाई अड्डे तक पहुंच की अनुमति पर निर्भर करता है जो बाहर जा रहे हैं और हमारे कार्यों में कोई व्यवधान नहीं हो।

बिडेन ने कहा कि पिछले 12 घंटों में 5,600 सैनिकों के साथ 6,400 लोगों और 31 गठबंधन विमानों ने काबुल से उड़ान भरी। उन्होंने कहा कि 14 अगस्त तक, अमरीका ने काबुल से 70,700 लोगों को निकालने में मदद की है।

बिडेन ने कहा कि उन्होंने विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन को बुधवार को उन अमरीकियों की संख्या के बारे में अपडेट देने का निर्देश दिया जो अभी भी अफगानिस्तान में हैं। बिडेन ने यह भी आशंका व्यक्त की कि काबुल हवाई अड्डे पर अमरीका और संबद्ध बलों को इस्लामिक स्टेट आतंकवादी समूह के संभावित हमले का खतरा है।

इसके अलावा बिडेन ने कहा कि काबुल हवाई अड्डे पर वापसी अभियान के लंबे समय तक चलने पर टूटने का गंभीर खतरा है। उन्होंने उस गोलाबारी का उल्लेख किया जो इस सप्ताह की शुरुआत में हुई थी जब हवाई अड्डे पर एक हथियारबंद व्यक्ति ने एक अफगान सुरक्षा अधिकारी की हत्या कर दी थी और तीन अन्य को घायल कर दिया था।

गत 15 अगस्त को तालिबान आतंकवादियों द्वारा काबुल के अधिग्रहण के बाद से विदेशी नागरिकों, राजनयिक मिशनों और अफगान नागरिकों की अफगानिस्तान से निकासी चल रही है और इसके कारण हवाईअड्डे में अशांति व्याप्त है, जहां निकासी उड़ानें संचालित हो रही हैं।