कोटा में बिहार की कोचिंग छात्रा ने हॉस्टल से कूदकर की आत्महत्या

कोटा। राजस्थान में कोटा के कुन्हाडी इलाके में आज बिहार की रहने वाली एक कोचिंग छात्रा ने एक हॉस्टल की पांचवी मंजिल से छलांग लगाकर आत्महत्या कर ली।

पुलिस सूत्रों ने बताया कि बिहार के मधेपुरा की मूल निवासी छात्रा शिखा यादव (17) कोटा में रहकर पिछले एक साल से मेडिकल एंट्रेंस टेस्ट की तैयारी कर रही थी। पिछले एक साल के दौरान वह अक्सर कोचिंग के लिए नहीं जाती थी जिसके कारण वह पढ़ाई में काफी कमजोर थी।

इसी बात से नाराज होकर शिखा के पिता सर्वेश यादव कल ही उसे वापस मधेपुरा ले जाने के लिए कोटा आए थे और उन दोनों का आज दोपहर का रेलगाड़ी में आरक्षण भी था। पिता चाहते थे कि सिखा अपने शहर में ही रहकर इस परीक्षा की तैयारी करें लेकिन छात्रा वापस नहीं लौटना चाहती थी।

इसी बात को लेकर पिता-पुत्री में मतभेद था। आज सुबह सर्वेश यादव जब हॉस्टल के बाहर एक होटल पर हॉस्टल के संचालक के साथ चाय पीने गए थे, तभी पहली मंजिल पर रहने वाली छात्रा शिखा यादव पांचवी मंजिल पर चढ़ गई।

जिस समय वह 60 फीट ऊंचाई पर स्थित पांचवी मंजिल से नीचे छलांग लगाने का उपक्रम कर रही थी, तभी नीचे मौजूद उसके पिता, हॉस्टल संचालक और अन्य लोगों ने शोर मचाकर उसे रोकने की कोशिश की, लेकिन वह नहीं मानी और छत से नीचे सड़क पर कूद गई।

उसकी अस्पताल ले जाने से पहले ही घटनास्थल पर मौत हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची कुन्हाड़ी थाना पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के बाद उसके पिता को सौंप दिया।