..जरूरत पड़ी तो इस्तीफा देने में देर नहीं करुंगा : सुरेश शर्मा

Bihar minister Suresh Sharma says will resign if involvement in Muzaffarpur shelter home scandal
Bihar minister Suresh Sharma says will resign if involvement in Muzaffarpur shelter home scandal

पटना। बिहार के नगर विकास एवं आवास मंत्री सुरेश शर्मा ने रविवार को कहा कि मुजफ्फरपुर मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव उन पर निराधार आरोप लगा रहे हैं और यदि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को लगा कि किसी भी कांड में उनकी संलिप्तता है तो इस्तीफा देने में देर नहीं लगेगी।

शर्मा ने संवाददाताओं से कहा कि नेता प्रतिपक्ष मुझपर निराधार आरोप लगा रहे हैं। कई मामलों में यादव के खिलाफ आरोप-पत्र दायर हो चके हैं। उन्हें जनता को बताना चाहिए कि वह कब इस्तीफा दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि यादव के आप्त सहायक पर गंभीर आरोप लगे हैं। यह मामला न्यायालय में लंबित है, इस पर उनकी क्या राय है। उन्होंने कहा कि दूसरों को आइना दिखाने से पहले यादव खुद आईना देख लें।

मंत्री ने कहा कि मुजफ्फरपुर के लोगों ने अपना बहुमूल्य मत देकर उन्हें बिहार में दूसरे बड़े अंतर से अपने शहर का विधायक चुना है। सभी जाति और समुदाय को साथ लेकर चलना उनकी प्राथमिकता है। राजनीति उनके लिए पैसा कमाने का नहीं बल्कि समाज सेवा का साधन है।

उन्होंने कहा कि जहां तक इस्तीफे की बात है जिस दिन भी मुख्यमंत्री को लगा कि मेरी संलिप्ता किसी भी कांड में है, इस्तीफा देने में देर नहीं करूंगा। मुजफ्फरपुर मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो कर रही है। दूध का दूध और पानी का पानी जनता के सामने आ जाएगा।

शर्मा ने कहा कि यादव के विरुद्ध अवमानना का कानूनी नोटिस भेजा गया है, जिसका जवाब उन्होंने अभी तक नहीं दिया है। जवाब नहीं आने पर आगे की कार्रवाई भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि यादव दबाव की राजनीति कर अपना चेहरा चमकाना चाहते हैं। वे जातीय दुराग्रह से ग्रसित हैं। अपने फायदे के लिए जातीय राजनीति कर समाज को बांटना इनके परिवार का इतिहास रहा है।

उन्होंने कहा कि यदि यादव के पास उनके विरुद्ध कोई भी साक्ष्य है तो उसे सीबीआई को या न्यायालय में दें। दबाव की राजनीति करने वाले यह बात जान लें कि वह किसी भी दबाव में झुकने वाले नहीं हैं।