बड़ी से बड़ी बीमारी भगायेगा ये टोटका | आजमा के देखिये

bimari khatam karne ke totke
bimari khatam karne ke totke

सबसे बड़ा टोटका |व्यक्ति जब बीमारी से परेशान होता है तो वह डॉक्टरों के चक्कर लगा-लगाकर परेशान हो जाता है फिर भी उसे लाभ नहीं होता। बीमार होने पर रोगी और घर के अन्य लोग मानसिक रूप से तनाव में आ जाते है और घर में अशांति का माहौल हो जाता हैं। ज्योतिष में कुछ ऐसे आसान उपायों का उल्लेख किया गया है, जिनको अपनाने से शीघ्र लाभ होगा। बीमारी भगाने के कुछ साधारण टोटके

  • हर पूर्णिमा को शिवमंदिर में जाकर भोलेनाथ से अपने परिवार को निरोग रखने की प्रार्थना करें। उसके बाद गरीबों में मिठाई, फल और नकद दान करें।
  • पीपल के वृक्ष की पूजा करने से सभी रोगों से छुटकारा मिलती है। रविवार को के अलावा अन्य सभी दिन सुबह स्नानादि कार्यों से निवृत होकर नियमित रूप से पीपल के वृक्ष पर मीठा जल अर्पित करें और उसकी जड़ को छूकर अपने सिर से लगाएं। पुरुष पीपल की 7 परिक्रमा करें महिलाएं नहीं करें। इसके बाद रोग को दूर करने की प्रार्थना करें, शीघ्र लाभ होगा।
  • लंबे समय से रोग से पीड़ित व्यक्ति को हर महीने में कम से कम एक बार अपने सार्थ्यनुसार किसी अस्पताल में जाकर दवा और फलों का वितरण करना चाहिए। इससे रोगी और उसके पारिवारिक सदस्य निरोग रहेंगे।
  • पान में गुलाब की सात पंखुड़ियां बीमार व्यक्ति को खिलाएं। इससे नजर का दोष दूर होगा और दवा भी शीघ्र असर करेगी।
  • सात नारियल जटा वाले लेकर शुक्ल पक्ष के सोमवार के दिन ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जाप करते हुए नदी में प्रवाहित करें। इससे रोग और दरिद्रता का नाश होगा।
  • थोड़ा सा गंगाजल जल में मिलाकर रोगी को पीने के लिए दें। इससे शीघ्र स्वास्थ्य लाभ होगा।
  • मंगलवार और शनिवार किसी भी दिन रोगी व्यक्ति के हनुमान जी की प्रतिमा से सिंदूर लेकर लगाएं। ऐसा करने से रोगी का दिल मजबूत होगा और वह शीघ्र ठीक होगा।
  • रोज सुबह अशोक के वृक्ष की ताजा तीन पत्तियां चबाने से चिंता से मुक्ति मिलती है और स्वास्थ्य भी ठीक रहता है।
  • बीमार व्यक्ति का रोग ठीक न हो रहा हो तो उसके तकिए के नीचे सहदेई अैर पीपल की जड़ रखें। इससे बीमारी शीघ्र ठीक हो जाएगी।
  • अगर रोगी तबियत ज्यादा ख़राब लग रही है तो रविवार के दिन बूंदी के सवा किलो लड्डू किसी भी धार्मिक स्थान पर चड़ा कर वहीँ पर प्रसाद के रूप में बाट दें।
  • परिवार में व्यक्ति बीमार है तथा लगातार दवा सेवन के पश्चात् भी रोगी ठीक नहीं हो रहा है, तो किसी भी रविवार से लगातार 3 दिन तक गेहूं के आटे का पेड़ा तथा एक लोटा पानी व्यक्ति के सिर के ऊपर से उसार कर जल को पौधे में डाल दें तथा पेड़ा गाय को खिला दें। इन 3 दिनों के अन्दर व्यक्ति अवश्य ही स्वस्थ महसूस करने लगेगा। अगर इस अवधि में रोगी ठीक हो जाता है तो भी इस प्रयोग को अवश्य पूरा करना चाहिए।
  • गुड के गुलगुले सवा पाव लेकर उसे 7 बार रोगी के सर से उसार कर मंगलवार या शनिवार व रविवार  को चील-कौए को डाल दें, रोगी को तुरंत राहत मिलने लगती है।