बीसलपुर बांध का जलस्तर 315 आरएल मीटर पहुंचा, कभी भी खोले जा सकते हैं चैनल गेट

अजमेर। राजस्थान में बारिश का दौर जारी रहने से राजधानी जयपुर सहित कई स्थानों को पेयजल आपूर्ति का मुख्य स्रोत टोंक जिले में स्थित बीसलपुर बांध लगभग लबालब हो चुका है और आज सुबह तक उसका जल स्तर 315 आरएल मीटर पहुंच गया।

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार पानी की आवक जारी रहने से अब बांध तेजी से अपने भराव क्षमता 315.50 आरएल मीटर की ओर बढ़ रहा है। सुबह दस बजे तक बांध का जलस्तर 315 आरएल मीटर दर्ज किया गया और शाम तक इसके छलकने की संभावना है।

बांध के लगभग पूरा भर जाने एवं पानी की आवक जारी रहने के कारण अब इसके गेट कभी भी खोले जा सकते है। टोंक जिला कलेक्टर आरसी डेनवाल बांध पर पूरी नजर बनाए हुए है। इतना ही नहीं उन्होंने बांध एवं सिंचाई विभाग के अधिकारियों के साथ उच्च स्तरीय चर्चा कर सभी को अलर्ट पर रखा है।

बांध के कैचमेंट क्षेत्र को पूरी तरह खाली करा लिया गया है ताकि पानी छोड़े जाने की स्थिति में किसी तरह के जानमाल का नुकसान न हो। क्षेत्र में मुनादी के अलावा बांध का सायरन बजाकर भी लोगों को सतर्क किया गया है।

गौरतलब है कि बीसलपुर बांध पर तीन साल बाद इस बार चादर चलने की संभावना है। इससे पहले वर्ष 2016 में बांध के लबालब होने पर इसके गेट खोलने पड़े थे। उस दौरान बांध के सभी 12 गेट खोलकर एक लाख 63 हजार क्यूसेक पानी छोड़ा गया था।

इससे पहले भी वर्ष 2014 , 2006, 2005 तथा 2004 में बांध के गेट खोलकर पानी की निकासी की जा चुकी है। बीसलपुर बांध से जयपुर, अजमेर, टोंक, दौसा जिलों में पेयजल आपूर्ति की जाती है।

तीन साल पहले भी लबालब हुआ था बीसलपुर बांध, खोले गए गए थे चैनल गेट

टोंक जिले स्थित बीसलपुर बांध मेंं शुक्रवार रात 11 बजे पानी का गेज 313.20 आरएल मीटर दर्ज हुआ। बांध की जलभराव क्षमता 315.50 आरएल मीटर है और बांध में 38.703 टीएमसी पानी पेजयल और सिंचाई के लिए आरक्षित किया जाता है। इसके बाद बांध के गेट खोल दिए जाते हैं। तीन साल पहले 2016 मेंं भी बीसलपुर बांध लबालब हुआ था तब चैनल गेट खोले गए थे। देखें वीडियो….