कांग्रेस की अंतर्कलह का कारण गहलोत की तानाशाही पूर्ण कार्यशैली : सतीश पूनियां

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष डाॅ. सतीश पूनियां ने कहा कि कांग्रेस के अन्दर चल रहे अन्तर्कलह एवं विग्रह के कारक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं उनकी तानाशाहीपूर्ण कार्यशैली है।

डाॅ. पूनियां ने आज यहां पत्रकारों से कहा कि कोरोना का संक्रमण प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ सरकार, उनके मंत्री एवं विधायक होटल के बाड़े में बंद होकर मौज-मस्ती कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना के प्रबंधन में राज्य सरकार पूरी तरह से विफल हो चुकी है। राज्य में कोरोना के 35 हजार से अधिक मामले सामने आ चुके हैं और 600 से अधिक मौतें हो चुकी हैं, लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं उनकी सरकार होटल में अंताक्षरी, कैरम, फुटबाॅल खेलने एवं फिल्में देखने में व्यस्त हैं।

डा पूनियां ने कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है, अपराध दिनों-दिन बढ़ते जा रहे है एवं अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। राज्य में विकास के सभी कार्य ठप पड़े हैं, हम पूछते हैं कि आखिर सरकार कब तक सरकार बाड़े में बंद रहेगी।

उन्होंने कहा कि विधानसभा सत्र बुलाने के लिए राज्यपाल जैसे संवैधानिक पद को चुनौती देते हुए एवं राजभवन को घेरने की धमकी देने वाले गहलोत ने जो बयान दिया, उससे पूरा राज्य देशभर में शर्मसार हुआ है।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गहलोत और उनकी सरकार जिस तरीके के कृत्य कर रहे हैं, बदजुबानी कर रहे हैं और अपनी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी की, इससे मुझे लगता है कि असन्तुलित होकर कुर्सी जाने के भय के चलते वह अमर्यादित एवं असंवैधानिक टिप्पणी कर रहे हैं।