उत्तर प्रदेश : भाजपा पार्षद ने की विकास दुबे के भाई की पैरवी

BJP councillor advocate Vikas Dubey brother in Uttar Pradesh Legislative Council
BJP councillor advocate Vikas Dubey brother in Uttar Pradesh Legislative Council

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान परिषद में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सदस्य उमेश द्विवेदी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चर्चित बिकरू कांड के मुख्य अभियुक्त विकास दुबे के भाई पर लगे मुकदमे वापस लेने का आग्रह किया है।

शिक्षक खंड लखनऊ से विधान पार्षद ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि वह मुठभेड़ में मारे गये विकास दुबे के भाई दीप प्रकाश दुबे और उनकी पत्नी अंजलि को परेशान कर रही है। लखनऊ के कृष्णानगर के निवासी दीप प्रकाश का बिकरू कांड से कोई संबंध नहीं है। इसके बावजूद उन पर झूठे मुकदमे लगाकर प्रताड़ित किया जा रहा है।

द्विवेदी ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि वह दुबे दंपत्ति पर लगे झूठे मुकदमो की उच्चस्तरीय जांच करा कर इसका निस्तारण सुनिश्चित करें।

गौरतलब है कि पिछले साल दो जुलाई को कानपुर में चौबेपुर के बिकरू गांव में दुर्दांत माफिया विकास दुबे ने एक क्षेत्राधिकारी समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी थी। बाद में पुलिस ने विकास दुबे समेत छह आरोपियों को अलग अलग मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। इस मामले में 37 से अधिक आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है।