माउण्ट आबू में BJP पार्षद ने स्वीकारी पत्रकार पर हमले में भूमिका, अरेस्ट

माउण्ट आबू पुलिस की गिरफ्त में आए पत्रकार के हमलावर।

सबगुरु न्यूज-माउण्ट आबू। पिछले सप्ताह माउण्ट आबू में पत्रकार पर हमला करवाने में स्थानीय भाजपा पार्षद का हाथ था। पुलिस ने भाजपा पार्षद समेत पत्रकार पर हमला करने वाले उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि अन्य चार हमलावरों की तलाश जारी है। पकडे गए दोनों हमलावर भाजपा पार्षद के साथ ही फाॅल्स सीलिंग का काम करते थे। रिंकु अग्रवाल भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष भी है।

माउण्ट आबू की कार्यवाहक थानाधिकारी एवम प्रकरण की जाच अधिकारी सरोज बैरवा ने बताया कि पत्रकार भास्कर अग्रवाल पर हमले के मामले में रिंकु अग्रवाल को गिरफ्तार किया गया है। उससे मिली जानकारी के बाद भास्कर पर हमला करने वाले दो युवक आबूरोड के चंडेला निवासी लालाराम गरासिया व उत्तर प्रदेश निवासी मेहताब पुत्र युसुफ को भी गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि भास्कर अग्रवाल ने नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई थी।

mount abu bjp councilor rinku allas mukesh agarwal

इसके आधार पर जांच का केन्द्र रिंकु अग्रवाल को ही रखा गया। उससे पूछताछ की गई। तकनीकी मदद से जुटाए गए तथ्यों के आधार पर उससे लगातार पूछताछ करने पर उसने स्वीकार किया कि भास्कर अग्रवाल पर उसने ही हमला करवाया है। उसके बताए अनुसार पुलिस ने उसके साथ फाॅल्स सीलिंग का काम करने वाले दो युवकों को भी गिरफ्तार किया। इन युवकों ने भी रिंकु अग्रवाल के कहने पर मारपीट की बात स्वीकार की।

पहले बताया उसके भाई ने जेल से करवाया होगा हमला

भाजपा पार्षद रिंकु उर्फ मुकेश अग्रवाल पुलिस को पहले इस प्रकरण में भटकाता रहा। पुलिस के जोर देने पर उसने कहा कि उसके भाई बाॅबी ने जेल में से उस पर हमला करवाया होगा। इस पर पुलिस ने उसकी बातों पर विश्वास नहीं किया और सच बोलने तक जुटाए हुए तथ्यों के आधार पर उससे पूछताछ करती रही। बाद में उसने स्वीकार किया कि भास्कर अग्रवाल ने उन तीनों भाइयों को बर्बाद कर दिया था। इस कारण उसने ऐसा करवाया।

उल्लेखनीय है कि जेल में रिंकु के भाई बाॅबी के पास मोबाइल होने की शिकायतें पहले कई बार आई। संभवतः इसी का फायदा उठाते हुए रिंकु ने पुलिस की जांच को भटकाने के लिए सोसायटी में हुए गबन के मामले गिरफ्तार उसके भाई बाॅबी उर्फ राकेश अग्रवाल पर इस प्रकरण का नाम घसीटना मुनासिब समझा हो।

माउण्ट आबू में 9 मार्च को दोपहर को करीब ढाई बजे कुम्हारवाडा में भास्कर अग्रवाल पर दो मोटरसाइकिलों पर मुंह ढककर आए छह हमलावरों ने बेसबाॅल के बैट से हमला किया था। इस हमले में भास्कर को चोटें आई थी।

भास्कर ने बताया कि वह माउण्ट आबू में सरकारी भूमियों पर कब्जा करके उसे बेचने के गोरखधंधे को उजागर कर रहे थे तभी से भाजपा पार्षद रिंकु अग्रवाल उनसे द्वेष रखता था। भास्कर अग्रवाल स्वयं भी पूर्व में भाजयुमो के जिला अध्यक्ष रह चुके हैं। इधर भाजयुमो जिलाध्यक्ष हेमंत पुरोहित ने बताया कि इस प्रकरण की जानकारी उन्हें मिल गई है। उन्होंने संगठन से इस संबंध में मार्गदर्शन मांगा है।