भाजपा का कांग्रेस सरकार के खिलाफ उपखण्ड मुख्यालयों पर प्रदर्शन

जयपुर। राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर सभी उपखंड मुख्यालयों पर धरना प्रदर्शन कर आज हल्ला बोल आंदोलन का आगाज किया।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां के आह्वान पर सम्पूर्ण किसान कर्जमाफी, बिगड़ी कानून व्यवस्था, बढ़ी बिजली दरें, लम्बित भर्तियां, परीक्षाओं में धांधली आदि जनहित के मुद्दों को लेकर गहलोत सरकार के खिलाफ हल्ला बोल आंदोलन के पहले दिन उपखण्ड मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया गया और प्रशासन को ज्ञापन सौंपे गए।

जोधपुर के ओसियां में डॉ. पूनियां ने हल्ला बोल आंदोलन का नेतृत्व किया। इस दौरान भारी संख्या में कार्यकर्ताओं एवं लोगों का जनसैलाब उमड़ा। ओसियां में डॉ. पूनियां ट्रैक्टर पर बैठकर करीब 500 ट्रैक्टरों के काफिले के साथ बड़ी संख्या में किसानों की मौजदूगी में उपखण्ड मुख्यालय पहुंचे, जहां उन्हें जनविरोधी नीतियों के खिलाफ प्रशासन को ज्ञापन सौंपा।

धरना-प्रदर्शन के बाद डॉ. पूनियां ओसियां में अचानक खेत में किसानों के बीच पहुंचे और उनके साथ बाजरे की फसल निकालने में हाथ बंटाया। उन्होंने किसानों के साथ खेत में बैठकर चाय पर चर्चा भी की।

इस दौरान डा पूनियां ने केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिलों के बारे में पूछा तो स्थानीय किसान जुंजाराम ने अपनी भाषा में कहा कि इण कानून के बारे में ज्यादा तो मने ठा कोनी पर अबके साको रा भाव चौखा है। किसानों ने समर्थन मूल्य में बढ़ोतरी पर मोदी सरकार की प्रशंसा कीl

इस दौरान डॉ पूनियां के साथ भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष भैराराम सियोल, जोधपुर देहात दक्षिण के भाजपा जिला अध्यक्ष जगराम बिश्नोई सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि व कार्यकर्ता मौजूद रहे। इसी तरह प्रदेश में अन्य जगह भाजपा के नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने धरना प्रदर्शन किया।

भाजपा महिला मोर्चा का किशनगढ उपखंड कार्यालय पर धरना प्रदर्शन