राजस्थान में भाजपा हो रही है खत्म : गोविंद सिंह डोटासरा

जयपुर। राजस्थान में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर फिर प्रदेश में विपक्ष की भूमिका निभाने में असफल रहने का आरोप लगाते हुए कहा है कि वह अंतर्कलह एवं वर्चस्व की लड़ाई के कारण अब प्रदेश में खत्म हो रही है।

डोटासरा आज यहां मीडिया से यह बात कही। उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि अब तो कोई दूसरा दल ही प्रदेश में विपक्ष की भूमिका निभाएगा। भाजपा के नेताओं को आपस में लड़ने से भी फुर्सत नहीं है। वे सरकार की कमी-खामियां निकालने की जगह आपस में ही एक दूसरे की कमी खामियां निकाल रहे हैं। एक दूसरे के पोस्टर फाड़ रहे हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा नेताओं में राजेंद्र सिंह राठौड़, गजेंद्र सिंह शेखावत, सतीश पूनियां और अब तो भूपेंद्र यादव सहित सभी खुद को एक दूसरे से सबसे बड़ा साबित करने में लगे हैं। वसुंधरा राजे दो बार मुख्यमंत्री रहीं हैं, उन्हें कहने की जरूरत नहीं है कि वे इन सब नेताओं से तो बड़ी हैं। इसमें कोई दो राय नहीं हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा में आगे और अंतर्कलह उजागर होगी। आने वाले समय में मुझे नहीं लगता कि भाजपा अपने पैरों पर खड़ी हो पाएगी।

डोटासरा ने आजादी के अमृत महोत्सव के पोस्टर से पंडित नेहरू का फोटो नहीं होने पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह चाहे कितनी ही कोशिश कर लें लेकिन जिन स्वतंत्रता सेनानियों का आजादी के आंदोलन में योगदान है उसे वे मिटा नहीं पाएंगे। आजादी के अमृत महोत्सव के पोस्टर से पंडित नेहरू का फोटो नहीं लगाना, यह ओछी मानसिकता है और इसकी निंदा हो रही हैं।

उन्होंने कहा कि देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू जिन्होंने आजादी की जंग में दिन जेल में गुजारे उनके योगदान को लोग कभी नहीं भुला पाएंगे।

उन्होंने कहा कि अंग्रेजों की मुखबिरी करने वाले एवं अंग्रेजों के एजेंट बनने वाले लोग आज कांग्रेस के नेताओं के योगदान पर उंगली उठा रहे हैं, देश की जनता इन्हें माफ नहीं करेगी। जनता सब देख रही है और आने वाले वक्त में इनका सूपड़ा साफ हो जाएगा।

डोटासरा ने कहा कि प्रदेश के छह जिलों में पंचायतीराज चुनाव में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करेगी। जनता सरकार के काम से खुश है। राज्य सरकार ने हर वर्ग को राहत दी है। पंचायतीराज चुनाव में ग्रामीण जनता कांग्रेस के साथ है।