आतंकवाद के सामने सबसे कमजोर रही भाजपा सरकार : कांग्रेस

आतंकवाद के सामने सबसे कमजोर रही भाजपा सरकार : कांग्रेस
आतंकवाद के सामने सबसे कमजोर रही भाजपा सरकार : कांग्रेस

नयी दिल्ली । कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर आतंंकवाद के सामने घुटने टेकने का आरोप लगाते हुए कहा है कि तीन खूंखार आतंकवादियों को बाइज्जत रिहा करने की उसकी ऐतिहासिक भूल का खामियाजा पूरे देश को भुगतना पड़ रहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता प्रमोद तिवारी ने गुरुवार को यहां पार्टी मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कांग्रेस सरकार ने जिन तीन खतरनाक आतंकवादियों को गिरफ्तार किया था, भाजपा के सत्ता में आने के बाद उन्हें सिर्फ रिहा नहीं किया गया बल्कि चार्टर्ड विमान से बाइज्जत अफगानिस्तान तक पहुंचाया गया था। रिहा हुए इन तीन खूंखार आतंकवादियों में मौलाना अजहर मसूद भी शामिल है जिसके आतंकवादी जम्मू-कश्मीर में सबसे ज्यादा खून खराबा कर रहे हैं। भाजपा सरकार की इस ऐतिहासिक भूल की कीमत पूरे देश को भुगतनी पड़ रही है।

आतंकवाद को लेकर भाजपा को उसका इतिहास याद दिलाते हुए उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में गृह मंत्री की बेटी का अपहरण करने के बाद उसकी रिहाई के बदले आतंकवादियों से समझौता करने वाली पार्टी की सरकार भाजपा के समर्थन से चल रही थी। महाराष्ट्र की भाजपा सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे एकनाथ खडगे के संबंध दाउद इब्राहिम से रहे हैं और वह दाउद से बात करता था।

कांग्रेस नेता नेता ने कहा कि आतंकवाद के सामने घुटने टेकने और सबसे कमजोर पड़ने का भाजपा का इतिहास रहा है। भाजपा के लोग आतंकवाद के सामने कांपते हैं जबकि कांग्रेस ने आतंकवाद का जमकर मुकाबला किया है और इसके लिए उसने अपने नेताओं का बलिदान भी दिया है।