भाजपा ने अपने बचे हुए मतों के आधार पर मुख्यमंत्री को घुटने के बल चला दिया : कटारिया

जयपुर। राजस्थान में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने कहा है कि भारतीय जनता पार्टी ने राज्यसभा चुनाव में उसके पास एक उम्मीदवार के लिए ही बहुमत होने के बावजूद बचे हुए मतों के आधार पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को घुटने के बल चला दिया और लोकतांत्रिक तरीके से राज्य सरकार की असफलता को जनता के सामने ला दिया।

राज्यसभा चुनाव के मतदान के बाद कटारिया ने आज मीडिया से यह बात कही। उन्होंने एक सवाल पर कहा कि हमारी जीत तो एक ही सीट पर प्राप्त होने वाली थी, लेकिन प्रथम वरीयता के बाद हमारे बचे हुए मतों के आधार पर मुख्यमंत्री को घुटने के बल पर चला दिया और उन्हें कैंप में बंद कर दिया गया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को सब काम छोड़कर उदयपुर जाना पड़ा।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अपनी गाड़ी एवं हेलीकाप्टर में बैठाकर मतदाताओं को ले जा रहे हैं। मतदान के दिन लाइन लगाकर मतदान के साथ उनके वोट देखने की कोशिश करते राजनीति के 39 साल में कभी नहीं देखा गया।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि उनके विधायकों को दबाने का प्रयास किया गया। विधायक चंद्रकांता को नोटिस देकर गिरफ्तार करने एवं दबाने का प्रयास किया गया। इसी तरह अन्य को प्रोपर्टी के नोटिस देकर दबाव बनाने की कोशिश की गई। कटारिया ने कहा कि मुख्यमंत्री ने जिस पराकाष्ठा पर जाकर चुनाव जीतने का प्रयास किया लेकिन फिर भी हमें हमारे पूरे वोट मिले।

राज्यसभा चुनाव : कांग्रेस के रणदीप, मुकुल एवं प्रमोद तथा BJP के घनश्याम जीते